अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सहरसा में मेले में हंगामा-मारपीट

बीती रात्रि मत्स्यगंधा स्थित काली मेला में नशे में धुत तीन मोटरसाइकिल सवार लोगों ने जमकर हंगामा मचाते मारपीट एवं तोड़फोड़ की। मौके पर पहुंची सदर पुलिस को एक गोली फायर करनी पड़ी। पुलिस ने घटनास्थल से बिना नम्बर की दो मोटरसाइकिल को जब्त किया है और हंगामा करने वालों में शामिल एक को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार व्यक्ति सत्तरकटैया प्रखंड के विशनपुर पंचायत का मुखिया अरविन्द यादव बताया जाता है।ड्ढr ड्ढr इस घटना से दुकानदारों के बीच भय व्याप्त है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि रात लगभग 11 बजे तीन मोटरसाइकिल पर सवार लोग जो नशे की हालत में थे ने चित्रहार में घुसकर संचालक से प्रोग्राम शुरू कराने को कहा। इस पर संचालक ने कहा कि प्रोग्राम आठ बजे तक ही चलता है अभी नहीं किया जा सकता कल आइयेगा। इस पर वे लोग मारपीट करने लगे तथा कुर्सियों और टय़ूब लाइटों को तोड़ दिया। इस क्रम में वहां भगदड़ मच गयी। इसी बीच सूचना मिलने पर सदर थानाध्यक्ष राजेश्वर सिंह पुलिस बलों के साथ वहां पहुंचे। थानाध्यक्ष को एक गोली भी चलानी पड़ी। हमलावरों में शामिल एक को तो पुलिस ने पकड़ लिया बांकी भागने में कामयाब रहे। तब जाकर स्थिति नियंत्रण में आया। इस बाबत पूछने पर सदर थानाध्यक्ष राजेश्वर सिंह ने गोली चलाने की बात से इंकार किया। हालांकि उन्होंने कहा कि हमलावर किसी घटना को अंजाम देने के उद्देश्य से वहां गये थे। इस मामले की छानबीन कर रिपोर्ट दर्ज करने की प्रक्रिया की जा रही है। मेला प्रभारी कुमार हीरा प्रभाकर तथा मंदिर व्यवस्थापक राजेश्वर यादव ने इस घटना में पुलिसिया कार्रवाई की प्रशंसा करते हुए कहा कि अगर पुलिस नहीं पहुंचती तो बड़ा हादसा हो जाता। उन्होंने मेला में लोगों से शांतिपूर्वक ढंग से आनंद उठाने की अपील की है। सारण में अनियमित विद्युत आपूर्ति से आक्रोशविद्युत ग्रिड में ताला जड़ाड्ढr बनियापुर (सारण) (ए.सं.)। प्रखंड के दर्जनों गांवों के सैकड़ों बिजली उपभोक्ताओं ने मंगलवार से अनिश्चित काल के लिए कोल्हुंआ ग्रिड में तालाबंदी कर सड़क यातायात को ठप कर दिया। इसकी सूचना पाकर बनियापुर बीडीओ सुनील कुमार पांडेय और थानाध्यक्ष उपेन्द्र कुमार पुलिस बल के साथ वहां पहुंचे और लोगों को काफी समझाने का प्रयास किया। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस बल को भी लगाया गया किन्तु खदेड़ा-खदेड़ी के बावजूद बंदी एवं यातायात ठप समाचार प्रेषण तक जारी रहा। उल्लेखनीय है कि विगत कई माह से बिजली आपूर्ति नहीं के बराबर हो रही है। इधर एक सप्ताह तक पूर्णत: बिजली आपूर्ति ठप रही है। इसे लेकर लोगों ने 72 घंटों का अल्टीमेटम देते हुए आंदोलन की घोषणा भी की थी बावजूद स्थिति यथावत रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सहरसा में मेले में हंगामा-मारपीट