अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वकीलों के आश्रितों को अब मिलेंगे दो की जगह पांच लाख

बिहार राज्य बार कोउंसिल ने वकीलों के कल्याण के लिए अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है जिसका लाभ राज्य के 80 हाार से भी अधिक वकीलों को मिलेगा। पहले जहां असामयिक मृत्यु होने पर वकीलों के परिवार को 2 लाख रुपए दिए जाते थे। उसे बढ़ाकर अब 5 लाख कर दिया गया है। काउंसिल के अध्यक्ष महासचिव पी के शाही ने यह जानकारी देते हुए बताया कि 30 वर्ष वकालत करने वाले वकील को सेवानिवृत्ति लाभ के रुप में एक लाख 35 हाार रुपए देने का प्रावधान था, जिसे बढ़ाकर अब अधिकतम तीन लाख रुपया कर दिया गया है।ड्ढr ड्ढr उन्होंने बताया तीन लाख की राशि उन वकीलों को दी जाएगी जो 50 वर्ष तक वकालत करंगे। हर तीन साल पर समीक्षा कर राशि को बढ़ाने पर विचार किया जायेगा। इस साल फरवरी में काउंसिल के अध्यक्ष का पदभार ग्रहण करने के बाद श्री शाही ने विशेष समिति के अपने सहयोगियों प्रेम कुमार झा एवं उमेश्वर प्रसाद सिंह के सहयोग से वैसे कार्यो को अंजाम दिया जो पिछले कई दशकों से नहीं हो पाया। ‘हिन्दुस्तान’ से खास बातचीत में श्री शाही ने कहा कि वकीलों को पेंशन देने की योजना तैयार कर बार काउंसिल ऑफ इण्डिया को भेजा गया है। वहां से स्वीकृति मिलने के साथ ही इसे अमली जामा पहनाया जाएगा। जो वकील इस योजना के सदस्य बनेंगे उन्हें सेवानिवृति के बाद य पूर्णत: विकलांग होने पर प्रतिमाह 5 हाार रुपए पेंशन के रुप में प्राप्त होंगे। उन्होंने बताया कि बार काउंसिल भवन का भी काया पलट किया जा रहा है। लिफ्ट लगाने के साथ ही शीतल पेय जल, आधुनिक शौचालय, साफ-सफाई की व्यवस्थ भी चरणबद्ध तरीके से लागू किया जा रहा है। उन्होंने कहाकि बार काउंसिल का चुनाव जल्द से जल्द हो सके इसकेलिए भी प्रभावी कदम उठाए गए हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वकीलों के आश्रितों को अब मिलेंगे दो की जगह पांच लाख