अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संक्षिप्प्त खबर

ाुस्को अधिकारियों पर पथराव जमशेदपुर (सं.)। कदमा रामजनम नगर में पिछले कई दिनों से सुलग रही कब्जे की चिंगारी ने मंगलवार को ज्वाला का रूप ले लिया। स्थानीय लोग सुबह ही एकाुट होकर टोल ब्रिज के निर्माण स्थल पर धरना देकर बैठ गये और काम ठप करा दिया। इस दौरान वहां से मजदूरों को भी भगा दिया गया। टोल ब्रिज का काम ठप होने की सूचना मिलने पर जुस्को के अधिकारी दोपहर में कार्यस्थल पर लोगों को समझाने पहुंचे। जुस्के के अधिकारियों को देखते ही स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने अधिकारियों पर पथराव शुरू कर दिया। इससे वहां बवाल खड़ा हो गया। इसके बाद आनन-फानन में प्रशासन और पुलिस के आला अधिकारी भागते हुए घटनास्थल पर पहुंचे। ड्ढr विधान सभा की समिति ने किया खुलासाड्ढr संवाददाता चासड्ढr बोकारो के उपायुक्त कार्यालय एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बीच तालमेल नहीं रहने के कारण बोकारा जिले में उग्रवादी हिंसा में मार गये लोगों को मुआवजा व अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाया है। वहीं दूसरी ओर बोकारो इस्पात ने लगभग 11 हाार विस्थापितों को नौकरी नहीं दिया है। उक्त बातें झारखंड विधान सभा अनुकंपा पारिवारिक लाभ, विस्थापन व पुनवार्स समिति के सभापति विनोद सिंह एवं सदस्य योगेश्वर महतो बाटुल ने मंगलवार को सर्किट हाउस में पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही।ड्ढr एनजेसीएस की बैठकड्ढr संवाददाता बोकारोड्ढr नेशनल ज्वाइंट कमेटी आफ स्टील (एनजेसीएस) की बैठक जनवरी 0में होगी। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 10 व 11 दिसंबर को एनजेसीएस की बैठक होनी थी। जिसमें देश के इस्पात मजदूरों का वेज रिवीजन पर निर्णय होने की संभावना व्यक्त की जा रही थी। लेकिन अंतिम समय में बैठक स्थगित कर दिया गया। सेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एनजेसीएस की अगली बैठक जनवरी के प्रथम सप्ताह में नई दिल्ली में होगी, जिसमें वेज रिवीजन व ठेकेदार मजदूरों की समस्याओं पर विशेष रूप से चर्चा होगी। पूर्व कमांडर की गोली मार हत्या डुमरी (सं.)। थाना क्षेत्र के ठंढाबहियार में मंगलवार की अहले सुबह चार लोगों ने घर से खींचकर गनौरी तुरी नामक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार मृतक एमसीसीआइ में डुमरी उत्तर का पूर्व एरिया कमांडर रहा था।ड्ढr पुलिस सूत्रों ने बताया कि तुरी के पिता का नाम बुधन तुरी है। आज सुबह चार लोग उसके घर पर आए और उसे जबरन खींचकर थोड़ी दूर ले जाकर गोली मार दी। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। गोली किसने मारी यह स्पष्ट नहीं है, लेकिन आशंका है कि भाकपा माओवादी से जुड़े लोगों ने ही उसे गोली मारी है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि हाल के दिनों में उसने संगठन को छोड़ दिया था। ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संक्षिप्प्त खबर