अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कसाब को मौत की सजा संभव

विशेष अदालत ने शनिवार को मुंबई हमले के मुख्य अभियुक्त अजमल कसाब को बालिग मानते हुए कहा कि उम्र के लिहाज से वह मृत्यदंड का भी भागी हो सकता है। अदालत न कसाब की अपनी सही उम्र का पता लगान क लिय उसक दांतां और हड्डियां की जांच क वास्त किय गए एक्स-र की प्लटं उपलब्ध करान की अपील खारिज कर दी।ड्ढr अदालत ने जांच रिपोर्ट तथा आर्थर रोड के जेलर व कसाब की जांच करने वाले डॉक्टर की गवाही के आधार पर कसाब को बालिग करार दिया। कसाब क दांतां और हड्डियां क कराए गए एक्स-र मं उसक 20 साल स ज्यादा के हान की बात सामन आई थी। इससे पहले न्यायाधीश एम़एल़ तहिलियानी न डाक्टरां स जांच क लिय एक्स-र प्लटं मुहैया करान की अपील का यह कहत हुए खारिज कर दिया कि कसाब क वकील का इसका मौका दिया गया था लकिन उन्हांन इसका फायदा नहीं उठाया।ड्ढr ड्ढr देश में स्वाइन फ्लू की पुष्टि नहींड्ढr नई दिल्ली (वि.सं.)। भारत में स्वाइन फ्लू के सभी छह संदिग्ध मामले जांच के बाद नेगेटिव पाए गए हैं। अलबत्ता सातवें केस में शनिवार को सॉन फ्रासिस्को से हैदराबाद में उतर 25 वर्षीय एक इांीनियर के रक्त नमूने देर शाम दिल्ली भेजे गए और जांच रिपोर्ट आना बाकी है। छह संदिग्ध मरीाों में से तीन दिल्ली एयरपोर्ट और तीन हैदराबाद में उतर थे। नेशनल इंस्टीटय़ूट आफ कम्युनिकेबल डिाीज के महानिदेशक डा. शिवलाल ने बताया कि इन छहों मामले में नेगेटिव रिपोर्ट आई है। इनमें एक सेंपल टैक्सास से लौटे भारतीय युवक और दो सेंपल उसके माता-पिता के थे। उन्होंने कहा कि अभी तक देश में स्वाइन फ्लू का कोई मामला सामने नहीं आया है। इधर, स्वाइन फ्लू की रोकथाम में जुटे स्वास्थ्य मंत्रालय की चुनौतियां अवश्य बढ़ गई हैं। प्रभावित देशों से आने वाले संदिग्ध मरीा चिकित्सा जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। शुक्रवार को इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से आरएमएल अस्पताल लाया गया एक संदिग्ध बिना बताए चला गया।जबकि डॉक्टरों ने उसे तीन दिन तक रुकने की सलाह दी थी। हालांकि उसकी जांच भी नेगेटिव निकली है। एक अन्य मरीा जो कि शिकागो से लौटा है, उसे आरएमएल में अभी भी निगरानी में रखा गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, शुक्रवार रात कुल तीन व्यक्ितयों को एयरपोर्ट से आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें दो शिकागो तथा एक लंदन से आया था। इनके रक्त के नमूने जांच के लिए एनआईसीडी में भेजे गए जो नेगेटिव निकले। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार शनिवार से सात और एयरपोर्टों पर विदेशों से लौटे यात्रियों की जांच शुरू की गई है। अब तक कुल 33ी जांच की गई है। इस कार्य में 126 डॉक्टर तथा 71 पैरामेडिकल स्टॉफ लगा हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर