DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिरसा सेंट्रल जेलकैदी करेंगे खेती, सरकार से दस एकड़ जमीन मांगी

बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल प्रशासन को दस एकड़ भूखंड चाहिए। जेल प्रशासन ने राज्य सरकार को लिखे पत्र में आग्रह किया है कि कृषि कार्य के साथ-साथ उद्योग के लिए जमीन की आवश्यकता है। जमीन का टुकड़ा भी चिन्हित कर सरकार को जानकारी दे दी गयी है। होटवार स्थित जेल से सटी जमीन पर पशुपालन विभाग का कार्यालय और डेयरी फार्म है। पशुपालन विभाग के पास अतिरिक्त भूखंड है। इस भूखंड में से दस एकड़ जमीन जेल प्रशासन को देने से सरकार को राजस्व भी मिलेगा और पैसे की बचत भी होगी।ड्ढr जेल प्रशासन के मुताबिक फिलहाल जेल परिसर के अंदर तीन एकड़ जमीन पर कृषि कार्य किया रहा है। जेल में चार हाार कैदी बंद हैं। इनको कृषि कार्य में लगाया जाता है। तीन एकड़ भूखंड पर तीन क्िवंटल सब्जी का उत्पादन किया जाता है। जबकि जेल के अंदर चार हाार बंदियों के बीच प्रतिदिन दस क्िवंटल सब्जी की खपत है।ड्ढr खेती लायक जमीन मिल जाने से कैदियों को काम में भी लगाया जा सकता है। साथ ही सब्जी के साथ-साथ अन्य उद्योग के माध्यम से अन्य उत्पादों का भी उत्पादन किया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बिरसा सेंट्रल जेलकैदी करेंगे खेती, सरकार से दस एकड़ जमीन मांगी