DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंबई हमला : कसाब की रिमांड 24 तक बढ़ी

भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में 26 नवंबर को हुए आतंकवादी हमले में पकड़ा गया एकमात्र आतंकवादी मोहम्मद अजमल आमिर उर्फ कसाब की रिमांड की अवधि अदालत ने 24 दिसंबर तक बढ़ा दी है। कसाव को छत्रपति शिवाजी टर्मिनस से पकड़ा गया था। कसाब को सुरक्षा कारणों से अदालत में पेश नहीं किया गया। यह जानकारी गुरुवार को एक पुलिस अधिकारी ने दी। संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) राकेश मारिया ने बताया कि कसाब को गुरुवार सुबह दक्षिणी मुंबई की एक अदालत में रिमांड के लिए पेश किया जाना था लेकिन पुलिस ने उसे लॉक-अप से बाहर नहीं निकालने का फैसला किया। मारिया ने बताया कि कसाब की पेशी नहीं कराने का फैसला सुरक्षा के अलावा मीडिया प्रचार को भी ध्यान में रखते हुए किया गया। अब न्यायाधीश स्वयं मुंबई पुलिस मुख्यालय स्थित अपराध शाखा के लॉक-अप में जाएंगे। कसाब के साथी-बड़ा अब्दुल रहमान, अबु अली, अबु सोहेब, उमर, अब्दुल रहमान छोटा, फहद उाह, इस्माइल खान, नासिर उर्फ अबु उमर और बाबर इमरान उर्फ अबु अक्श मुंबई के अलग-अलग स्थानों पर 60 घंटे के कमांडो ऑपरेशन में मारे गए थे। इन हमलों में विदेशी नागरिकों समेत कम से कम 17लोगों की जान गई थी। गौरतलब है कि कसाब को एक कांस्टेबल तुकाराम कांबले की असीम वीरता के कारण पकड़ा जा सका। तुकाराम ने उसके एके-47 को पकड़ लिया और सारी गोलियां अपने सीने में खा ली। उसी की वीरता के कारण उसके साथी पुलिसकर्मी उसको पकड़ पाए। कसाब पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का रहने वाला है, हालांकि पाकिस्तान ने इसको मानने से इनकार कर दिया है। कसाब से खुफिया एजेंसियों को कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं। उसने पूछताछ में बताया है कि उसके साथ कुल 30 आतंकवादियों को ट्रेनिंग दी गई थी। उसने बताया कि 10 आतंकवादी भारत आए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मुंबई हमला : कसाब की रिमांड 24 तक बढ़ी