अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘लोकतंत्र से ही दूर होगा आतंक’

पाक के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने गुरुवार को कहा कि लोकतंत्र से ही आतंकवाद खत्म किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पाक के भीतर आतंक के अंत के लिए देश में लोकतंत्र को मजबूत करना बेहद जरूरी है। जरदारी ने यह बयान बेनजीर भुट्टो को मरणोपरांत संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार सम्मान दिए जाने के बाद दिया। जरदारी ने कहा, ‘दिवंगत बेनजीर भुट्टो को श्रद्धांजलि देने का सबसे बेहतर तरीका यह है कि हम आतंकियों के साथ किसी भी तरह का समझौता न करं।’ उन्होंने कहा कि पाक सरकार आतंक और आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए वचनवद्ध है। सरकार ऐसे तत्वों को हिंसा या फिर ताकत के जरिए पाकिस्तान के लोगों पर कट्टरवादी एजेंडा लागू नहीं करने देगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को बेनजीर के सपने को पूरा करने के लिए लोकतंत्र को मजबूत करना होगा। इस बीच जरदारी के पुत्र और पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने पाकिस्तान के मुस्लिम युवाओं से की कि वे इस्लाम के कट्टरपंथी व्याख्या से खुद को गुमराह ना होने दें। उन्होंने कहा कि इस्लाम का सच्चा संदेश शान्ति है और इसे ही स्वीकार करना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘लोकतंत्र से ही दूर होगा आतंक’