अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक और मामले में मुन्नी सहित सात रिमांड पर

दुमका के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में सुनवाई के बाद केद्रीय जेल में बंद झारखंड उलगुलान मंच की नेता मुन्नी हांसदा और चरण कुमार सहित सात कार्यकर्ताओं को एक और मामला(दुमका नगर थाना कांड संख्या 25008) में रिमांड पर ले लिया गया । यह मामला अगस्त 2008 का है जब उलगुलान मंच के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने अपने नेता चरण कुमार और होपना बास्की की रिहाई की मांग को लेकर दुमका एसपी कार्यालय का घेराव किया था और लगातार तीन दिनों तक यहां धरना दे कर प्रशासन को पंगु बना दिया था। विधि व्यवस्था बनाये रखने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। संयोग से चरण कुमार और होपना बास्की को अदालत से जमानत मिल गयी थी। इसके बाद ही मामला शांत हुआ था। इस मामले में दुमका टाउन थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गयी थी। काठीकुंड थाना से जबरन मोटरसाइकिल उठा ले जाने के मामले में गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजी गयी मुन्नी हांसदा,चरण कुमार,चरण राज के साथ ही हाल में काठीकुंड पुलिस फायरिंग के दिन गिरफ्तार भीम लाल साहू, सुनील मरांडी, गयिना हांसदा,रामविलास हेम्ब्रम एवं गोपाल महतो को भी टाउन थाना मामले में रिमांड किया गया है। गुरुवार को इसके लिये मुन्नी हांसदा सहित सभी सात लोगों को दुमका केद्रीय कारा से ही दुमका के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में वीडियो कांफेंसिंग के माध्यम से प्रोडक्शन किया किया गया। सुरक्षा कारणों का हवाला दे कर अदालत में श्रीमती हांसदा सहित झारखंड उलगुलान मंच के कार्यकर्ताओं की पेशी वीडियो काफ्रेंसिंग के माध्यम से हो रही है। मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शिववचन यादव की अदालत में पेश किया गया। गौरतलब है कि आमगाछी-पोखरिया में प्रस्तावित पावर प्लांट को लेकर विस्थापन विरोधी नेता के रुप में मुन्नी हांसदा इन दिनों चर्चा में है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक और मामले में मुन्नी सहित सात रिमांड पर