अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दारू की लत ने बना दिया अपराधी

अठारह वर्षीय युवक राजेश को दारू अड्डे की संगत ने अपराध के दलदल में ऐसा ढकेला कि वह डकैती करने पर मजबूर हो गया। अभी अपराध की दुनिया में पहला कदम रखा ही था कि पुलिस ने राजीवनगर मुहल्ले में रोड नम्बर 15 ई स्थित व्यवसायी बंधु अनिल कुमार व सुनील कुमार के घर हुई डकैती के मामले में गिरफ्तार कर लिया। चौंकाने वाली बात यह है कि जहां डकैती हुई, राजेश उसका पड़ोसी है। इसी के इशार पर दीघा व राजीवनगर के सात अपराधियों ने हथियार के बल पर डकैती की घटना को मंगलवार की रात अंजाम दिया था।ड्ढr ड्ढr डकैती की योजना एक सप्ताह पहले अमरुदी बगीचा, दीघा में उस समय बनी जब जेल से छूट कर आए तीन अपराधियों के साथ राजेश ने शराब की महफिल सजाई थी। अपराधियों ने राजेश को इसमें मोहरा बनाया और कहा कि रात में व्यवसायी बंधु के घर को वाच करते रहो। राजेश पड़ोसी होने के चलते रात आठ बजे घर के पास मंडराने लगा। रात आठ बजे ही उस घर में आइसक्रीम के एजेंसी वाले रोाना अनिल-सुनील के घर माल देते थे। राजेश ने अपने सहयोगियों को यह भी बताया था कि रात आठ बजे मर्द की सूरत में कोई मौजूद नहीं रहता है। जब सारी जानकारी मिल गई तो पहले से तय प्रोग्राम के मुताबिक राजेश समेत सात अपराधी हथियारों से लैस होकर रात आठ बजे घर के पास जमा हो गए।ड्ढr जसे ही एजेंसी वाले आइसक्रीम देने पहुंचे, पहले से घात लगाए इन बदमाशों ने घर पर हमला बोल दिया। शातिर राजेश घर के भीतर नहीं घुसा क्योंकि उसे इस बात की जानकारी थी कि महिलाएं उसे पहचानती हैं। विधि व्यवस्था डीएसपी शैलेश कुमार सिन्हा ने शुक्रवार की रात इन बातों का खुलासा करते हुए बताया कि इस घटना का सरगना समेत छह अपराधी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं। पुलिस सरगना को बुधवार की रात पकड़ने गई थी पर वह छत से कूदकर फरार हो गया। उन्होंने बताया कि पुलिस ने डकैती में गए कुछ सामान भी बरामद किया है जिसकी पहचान अभी नहीं हो सकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दारू की लत ने बना दिया अपराधी