DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चेन्नई टेस्ट : इंग्लैंड की स्थिति मजबूत

आेपनर एंड्रयू स्ट्रास और मध्यक्रम बल्लेबाज पाल कोलिंगवुड के नाबाद अर्धशतकों की मदद से इंग्लैंड ने पहले क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार को यहां भारत के खिलाफ अपनी स्थिति काफी मजबूत कर ली है। दिन का खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड ने दूसरी पारी में तीन विकेट पर 172 रन बनाकर अपनी कुल बढ़त 247 तक पहुंचा दी। उस समय स्ट्रास 73 और कोलिंगवुड 60 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे। यह दोनों बल्लेबाज चौथे विकेट की नाबाद साझेदारी में अब तक 12रन जोड़ चुके हैं। पहली पारी में शानदार शतकीय पारी खेलने वाले स्ट्रास और फार्म की तलाश में भटक रहे कोलिंगवुड ने महज 43 रनों पर इंग्लैंड के तीन विकेट गिरने के बाद पारी को अपनी सूझबूझ भरी बल्लेबाजी से संभाल लिया। इनकी पारियों की वजह से ही इंग्लैंड अब मेजबान टीम पर भारी पड़ता हुआ दिख रहा है। इससे पहले भारत की पहली पारी लंच के एक घंटे बाद 241 पर समाप्त हुई थी। कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के सधे हुए अर्धशतक (53) और हरभजन सिंह के तेजतर्रार 40 रनों के बावजूद भारत 75 रनों की लीड खा बैठा। इंग्लैंड ने पहली पारी में 316 रन बनाए थे। पहली पारी के आधार पर मिली अच्छी-खासी बढ़त से उत्साहित इंग्लैंड की दूसरी पारी की शुरूआत हालांकि अच्छी नहीं रही। भारतीय युवा तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने 28 के स्कोर पर आेपनर एलिस्टेयर कुक को विकेट के पीछे धौेनी के हाथों कैच कराकर इंग्लैंड को पहला झटका दे दिया। कुक 30 गेंदों का सामना के बाद सिर्फ नौ रन ही बना सके। लेकिन दूसरे आेपनर स्ट्रास पहली पारी में शतक बनाने के बाद आत्म विश्वास से लबालब थे और उन्होंने भारतीय गेंदबाजों का बखूबी सामना किया। उन्होंने तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे इयान बेल के साथ मिलकर पारी संवारने की कोशिश की लेकिन लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने बेल (07) को शार्ट लेग पर खड़े गौतम गंभीर के हाथों कैच कराते हुए इंग्लैंड को दूसरा आघात दे दिया। अगले ही आेवर में पार्ट टाइम स्पिनर युवराज सिंह ने अंग्रेज कप्तान केविन पीटरसन को पगबाधा आउट करके इंग्लैंड की पारी को गहरे संकट में डाल दिया। पीटरसन मैच में लगातार दूसरी बार नाकाम रहे और सिर्फ एक रन बनाकर पैवेलियन लौट गए। इंग्लैंड का तीसरा विकेट 43 के स्कोर पर गिरता देख भारत ने दबाव बढ़ा दिया। लेकिन स्ट्रास और कोलिंगवुड ने इस मुश्किल दौर से अपनी टीम को उबार लिया। धौनी ने अपने तुरूप के पत्ते हरभजन को भी इस दौरान आक्रमण पर लगाया लेकिन वह इस जोड़ी को नहीं तोड़ पाए। स्ट्रास और कोलिंगवुड ने दबाव के क्षणों में भी भारतीय गेंदबाजों को खुद पर हावी नहीं होने दिया। उन्होंने गेंद को परखकर खेलने की रणनीति अपनाई और भारतीय स्पिनरों की फ्लाइट वाली गेंदों के लालच में फंसने से खुद को बचाते हुए इंग्लैंड को लगातार मजबूत स्थिति की तरफ पहुंचा दिया। स्ट्रास ने अब तक 150 गेंदों का सामना करने के बाद पांच चौकों की मदद से 73 रन बनाए हैं जबकि कोलिंगवुड 133 गेंदों पर छह चौकों के सहारे 60 रन बनाकर खेल रहे हैं। इनकी बेशकीमती पारियों के बलबूते इंग्लैंड ने अपनी कुल बढ़त 247 तक पहुंचा दी है जबकि अभी उसके सात विकेट शेष हैं। इससे पहले भारत ने शुक्रवार के छह विकेट पर 155 रन से आगे खेलते हुए धौनी और हरभजन की पारियों के सहारे 241 रन बनाए थे। हालांकि भारत के निचले क्रम ने संघर्ष का अच्छा माद्दा दिखाया लेकिन उसके शीर्ष क्रम की नाकामी उनकी कोशिशों पर भारी पड़ गई। धौनी और हरभजन ने सुबह के सत्र के पहले घंटे में सूझबूझ भरी बल्लेबाजी करते हुए भारत को 200 के भीतर समेटने की पीटरसन की योजना नाकाम कर दी थी। लेकिन सातवें विकेट के लिए धौनी के साथ 75 रन जोड़ने के बाद हरभजन स्पिनर मोंटी पनेसर की गेंद पर शार्ट लेग पर कैच कर लिए गए। उन्होंने 58 गेंदों का सामना करते हुए सात चौकों की मदद से 40 रनों की कीमती पारी खेली। तेज गेंदबाज एंड्रयू फ्लिंटाफ की गेंद पर पगबाधा घोषित होने के पहले जहीर खान केवल एक रन ही बना सके। पारी का आठवां विकेट 217 रन पर गिरने के बाद धौनी ने तेजी से रन बनाने की पहली ही कोशिश में अपना विकेट गंवा दिया। दिन के अपने पहले ही आक्रामक शाट पर वह लांग आफ पर कैच कर लिए गए। उस समय तक वह 82 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 53 रन बना चुके थे। इसके बाद अमित मिश्रा और इशांत शर्मा की आखिरी जोड़ी ने विकेट पर टिकने की कोशिश की और लंच तक यह दोनों 22 रन जोड़ चुके थे। लेकिन तेज गेंदबाज फ्लिंटाफ ने लंच के बाद की चौथी ही गेंद पर अमित (12) को बोल्ड करके भारत की पहली पारी 241 पर समेट दी। इशांत आठ रन बनाकर नाबाद रहे। इंग्लैंड की तरफ से फ्लिंटाफ ने 4रन देकर तीन विकेट लिए जबकि पनेसर को 65 रन देकर इतने ही विकेट मिले। अपना पहला टेस्ट खेल रहे ग्रीम स्वान को दो जबकि तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन और स्टीव हार्मिसन को एक-एक विकेट मिले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चेन्नई टेस्ट : इंग्लैंड की स्थिति मजबूत