DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनता के दबाव से राजनीति भी संभलेगी : वाजपेयी

चर्चित टीवी एंकर व वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी का मानना है कि आम जनता के दबाव से देश की राजनीति भी संभलेगी। मुंबई में आतंकी हमले के बाद नेताओं के खिलाफ आम लोगों में उपजे गुस्सा व आक्रोश को देखकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को बदले जाने का फैसला यही संकेत देता है। उनके मुताबिक समाज के भीतर के आतंक की ओर से हम आंखें मूदें हुए हैं। खासकर राजनेता।ड्ढr ड्ढr श्री वाजपेयी शनिवार को पटना पुस्तक मेले में मीडिया लीडर के तहत आम पाठकों से मुखातिब थे। इस मौके पर प्रभात खबर के प्रधान संपादक हरिवंश ने श्री वाजपेयी लिखित व अंतिका प्रकाशन द्वारा प्रकाशित दो पुस्तकों, राजनीति मेरी जान व डिजास्टर का लोकार्पण किया। पटना के केंद्रीय विद्यालय, सायंस कालेज व बीएन कालेज से पढ़े श्री वाजपेयी ने अपनी पत्रकारिता के सफर व अनुभव को पाठकों के साथ बांटते हुए कहा कि आज जनता के सामने विकल्प कम होते जा रहे हैं।ड्ढr ड्ढr हालांकि मुद्दे लगातार बढ़ रहे हैं। दूसरी ओर आज के दौर में पत्रकारिता भी बड़ी कठिन हो गयी है। टीआरपी बढ़ाने के लिए आज तरह-तरह के नुस्खे अपनाए जा रहे हैं , इनके बीच ही हम जनता को समाज का सच भी दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने इस दौरान संसद पर हमले की घटना की रिपोर्टिग व पाक अधिकृत कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख से इंटरव्यू लिये जाने का अनुभव बताया। संचालन डा. ध्रुव कुमार ने व स्वागत मिनती चकलानवीस ने किया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जनता के दबाव से राजनीति भी संभलेगी : वाजपेयी