अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रलवे ट्रैक पर छोड़ गए नवचाात

इस कड़ाके की ठंड में में किसी ने एक नवाात को रलवे ट्रैक पर फेंक दिया। यह बच्ची शनिवार देर रात चाइल्ड लाइन के सिपुर्द कर दी गई। रलवे ट्रैक पर मिलने के महा दो घंटे पहले ही बच्चीोन्मी थी। चाइल्ड लाइन कार्यकर्ताओं ने बच्ची का नाम प्यार से आँचल रखा है। फिलहाल बच्ची ठीक है और उसे नियोनेटल विभाग में भर्ती करायाड्ढr गया है।ड्ढr शनिवार को देर रातोीआरपी को चारबाग रलवे स्टेशन की छोटी लाइन के प्लेटफार्म नम्बर तीन पर नवाात बच्ची लावारिस मिली। इस मासूम के अपने इतने निर्दयी हो गए कि उसे इस कड़ाके की ठण्ड में बिना किसी कपड़े के पटरी के बीचोबीच फेंक दिया। नवाात ने दो घण्टे पहले ही इस दुनिया में कदम रखा था और उसकी अब तक नाल भी नहीं काटी गई थी।ोीआरपी ने चाइल्ड लाइन से सम्पर्क कर बच्ची को उनके सुपुर्द कर दिया। चाइल्ड लाइन कार्यकर्ताओं ने बच्ची को वीरांगना झलकारी बाई महिला अस्पताल के नियोनेटल विभाग में भर्ती कराया। बच्ची के नाक में नली लगाई गई है और उसे नली केोरिए ग्लूको चढ़ायाोा रहा है। चिकित्सकों के अनुसार बच्ची ठीक है लेकिन फिर भी सोमवार को नवाात का चिकित्सीय परीक्षण कियाोाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रलवे ट्रैक पर छोड़ गए नवचाात