DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दवा कीमतों में कमी करने के निर्देश

भारतीय औषधि मूल्य नियामक ने दवा कंपनियों से कहा है कि कर में दी गई हाल की रियायत का लाभ उपभोक्ता तक पहुंचना चाहिए और इसके लिए दवाइयों की कीमतों में 2.84 प्रतिशत तक की कमी की जाए। रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में सभी औषधि निर्माताओं और फॉमरूलेशन पैक्स विपणन कंपनियों से कहा गया है कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि उत्पाद शुल्क में कटौती का फायदा उपभोक्ताओं तक पहुंचे। इसके लिए अधिकतम खुदरा कीमतों में कमी की जानी चाहिए। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय औषधि मूल्य प्राधिकरण देश में दवाइयों के दामों को नियंत्रित करता है और रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय इस पर निगरानी रखता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दवा कीमतों में कमी करने के निर्देश