अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इजरायल से मानवाधिकार दूत के निष्कासन की निंदा

संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष ने इजरायल द्वारा संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार मामलों के दूत रिचर्ड फॉक को देश से निष्कासित किए जाने की घटना की निंदा करते हुए इसे ‘खतरनाक’ कदम करार दिया है। फॉक को रविवार को जेरूसलम हवाई अड्डे पर रोक दिया गया और फिर उन्हें अमेरिका वापस भेज दिया गया। इजरायल के विदेश मंत्रालय ने सोमवार को कहा था कि फॉक का देश में स्वागत नहीं किया जाएगा। मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि फॉक इजरायल बिना इजाजत के पहुंचे थे और उनकी यात्रा बेबुनियाद थी, जिस कारण उन्हें लौटा दिया गया। इजरायल इससे पूर्व भी फॉक पर आपत्ति जाहिर कर चुका है। उन पर फिलीस्तीन का समर्थन करने का आरोप लगाया गया था। इस पूरे प्रकरण पर चिंता जताते हुए महासभा अध्यक्ष मिग्यूल डी इस्कोटो ब्रोकमैन ने कहा कि इजरायल सरकार के इस फैसले को ‘खतरनाक’ माना जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: इजरायल से मानवाधिकार दूत के निष्कासन की निंदा