अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रियायती ब्याज दरों का ब्योरा आएगा जल्द

इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) के बैनर तले सरकारी बैंकों ने फिलहाल 20 लाख रुपये तक के होम लोन पर रियायती ब्याज दरें घोषित जरूर कर दी हैं लेकिन इन सभी बैंकों की अपनी-अपनी स्वतंत्र स्कीमें जल्द आएंगी। बैंकों ने पूरी सख्ती से नई रियायती दरों को बिलकुल ही नये ग्राहकों तक सीमित करने का फैसला किया है। ये ब्याज दरं फिक्स्ड होंगी लेकिन पांच साल बाद बैंक नई परिस्थितियों के मुताबिक मौजूदा ब्याज दरों को बढ़ाने अथवा घटाने के लिए स्वतंत्र होंगे। आईबीए ने सभी बैंकों को निर्देश जारी कर दिया गया है। लेकिन सभी बैंक अपनी-अपनी स्कीमें जल्द घोषित करेंगे जिसमें वे पांच लाख रुपये तक के होम लोन पर 8.50 फीसदी और पांच से 20 लाख रुपये तक के होम लोन पर तयीसदी की ऊपरी ब्याज सीमा से नीचे कोई भी ब्याज दर तय करने के लिए स्वतंत्र होंगे। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एक अधिकारी के मुताबिक इस स्कीम में रि-सेट क्लॉज लागू यानी बैंक पांच साल बाद इस लोन पर नई परिस्थितियों के मुताबिक ब्याज दरं बढ़ाने अथवा घटाने के लिए स्वतंत्र होंगे। दूसर बैंकों के होम लोन की अदला-बदली भी नहीं होगी। अधिकारी के मुताबिक अगर भविष्य में महंगाई दर और भी नीचे आती हैं तो ब्याज दरं नीचे आएंगी लेकिन जमा दरों को एक स्तर से नीचे नहीं ले जा सकते, अन्यथा पैसा जमा करने वाले दूसरी निवेश स्कीमों जसे म्यूचुअल फंड आदि में भाग जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रियायती ब्याज दरों का ब्योरा आएगा जल्द