अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ढाई से पंद्रह घंटे लेट पहुंचीं ट्रेनें

ठंड व कोहर के चलते ट्रनों की रफ्तार सुस्त पड़ी हुई हैं। मगध, हिमगिरी समेत कई ट्रनें मंगलवार को समय पर नहीं पहुंच सकीं। ट्रनें ढाई घंटे से पंद्रह घंटे तक लेट पहुंचीं। 2332 हिमगिरी रिकार्ड पंद्रह घंटे तो 2506 नार्थईस्ट साढ़े ग्यारह घंटे व 3484 फरक्का बारह घंटे लेट आयी। 2401 मगध के पांच घंटे की लेटलतीफी के कारण 2402 मगध को पटना से ही नई दिल्ली के लिए विदा किया गया। इसके इस्लामपुर नहीं जाने से कई यात्रियों की फजीहत हो गयी। साथ ही 3040 जनता नौ घंटे, 23श्रमजीवी ढाई घंटे, 5636 दादर-गुवाहाटी चार घंटे, 3111 लालकिला भी चार घंटे, 5631 ओखा-गुवाहाटी साढ़े छह घंटे और 2316 अनन्या एक्सप्रस 200 मिनट विलंबित रहीं।ड्ढr ड्ढr दूसरी ओर कटिहार इंटरसिटी एक्सप्रस में छात्र संगठन विद्यार्थी परिषद के आंदोलनकारी छात्रों का कब्जा रहा। इसके चलते आम यात्रियों को भारी मशक्कत उठानी पड़ी। आंदोलनकारियों का जत्था सोमवार की रात भी किशनगंज में प्रस्तावित आंदोलन के लिए कैपिटल एक्सप्रस से रवाना हुआ था। बैनर-पोस्टर के साथ नारबाजी करते हुए छात्रों का जत्था पटना जंक्शन पहुंचा जिससे यात्रियों के बीच अफरातफरी रही।ड्ढr ड्ढr बहुमंजिली इमारतों पर निगमायुक्त हलफनामा देंड्ढr पटना (वि.सं.)। पटना शहर में कितनी बहुमंजिला इमारतें हैं तथा मास्टर प्लान के तहत बनायी गयी हैं या नहीं इस बार में पटना नगर निगम के आयुक्त को हलफनामा दायर करने का आदेश पटना हाईकोर्ट ने दिया है। अदालत ने बुधवार तक हलफनामा दायर कर बहुमंजिली इमारते एवं एपार्टमेंट के बार में विस्तृत ब्योरा देने के कहा है। अदालत ने मास्टर प्लान के बार में भी पूरी जानकारी देने का आदेश दिया है। मंगलवार को न्यायमूर्ति चन्द्रमौली कुमार प्रसाद तथा न्यायमूर्ति डा. रवि रंजन की खंडपीठ ने रविन्द्र कुमार राय की ओर से दायर लोकहित याचिका पर सुनवाई की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ढाई से पंद्रह घंटे लेट पहुंचीं ट्रेनें