DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दूसरे दिन भी बंद रहा सीतामढ़ी

पुलिस फायरिंग के खिलाफ मंगलवार को पूर दिन सीतामढ़ी स्वत: स्फूर्त बंद रहा। इक्का-दुक्का वाहनों को छोड़कर सड़क पर केवल आंदोलनकारियों की चहलकदमी दिखी। राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्याम राक के नेतृत्व में पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने फायरिंग में मार गये राजू मिश्रा व अपराधियों की गोली के शिकार हुए युवा व्यवसायी अनिल कुमार के घरवालों से मिलकर सांत्वना दी। इस दौरान सीातमढ़ी पहुंचे नेताओं को आक्रोशित लोगों के जबर्दस्त आक्रोश का सामना करना पड़ा।ड्ढr ड्ढr श्री राक ने पूर मामले की न्यायिक जांच व एसपी को मुअत्तल करते हुए हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग की। मृतकों के परिानों को 25-25 लाख मुआवजे की भी मांग की गयी। इधर, लगातार दूसर दिन भी डीआईाी अरविंद पांडेय सीतामढ़ी में ही कैम्प करते रहे। आयुक्त के साथ उन्होंने जांच भी शुरू कर दी है। डीआईाी ने स्थिति को नियंत्रण में बताते हुए कहा कि जांच करके शीघ्र रिपोर्ट सौंप दी जायेगी। इस मामले में नगर थाना में दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उधर, मंगलवार की सुबह फिर कुछ अप्रिय नहीं हो, इसके लिए लेकर सोमवार की देर रात में ही प्रशासन की मौजूदगी में पोस्टमार्टम के बाद युवा व्यवसायी व पुलिस गोली से मार गये राजू का अंतिम संस्कार करा दिया गया। सुबह से ही मेहसौल चौक, लखनदेई पुल, किरण चौक, महंथ साह चौक और गांधी चौक की ज्यादतर दुकानें बंद रहीं। मुजफ्फरपुर के नगर विधायक विजेन्द्र चौधरी ने भी पहुंच कर घटना का जायजा लिया। श्री राक के साथ राजद के सचेतक रामचन्द्र पूव्रे, प्रदेश महासचिव निहोरा प्रसाद यादव, सांसद सीताराम यादव, पूर्व सांसद नवल किशोर राय, गायघाट (मुजफ्फरपुर) के विधायक महेश्वर प्रसाद यादव आदि ने घटना का जायजा लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दूसरे दिन भी बंद रहा सीतामढ़ी