अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनसे अध्यक्ष की गुरुवार को अदालत में पेशी

छठ पर्व तथा बिहारियों के बारे में अपमानजनक टिप्पणी से जुड़े एक मामले में जारी गैर जमानती वारंट के सिलसिले में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे को गुरुवार को यहां की एक अदालत में पेश होना है। इस मामले में अदालत ने गत एक दिसंबर को राज के खिलाफ नए सिरे से गैर जमानती वारंट जारी कर मुंबई पुलिस से उन्हें 18 दिसंबर तक अदालत में पेश करने को कहा था। उत्तर भारतीयों के अपमान से जुड़े एक अन्य मामले में यहां की एक दूसरी अदालत ने मंगलवार को भी उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। अपमानजनक टिप्पणी को लेकर मनसे के अध्यक्ष के खिलाफ मुकदमा दायर करने वाले स्थानीय वकील हामिद रजा ने गुरुवार को बताया कि अब तक किसी भी तिथि पर अदालत में पेश नहीं हुए हैं। अगर वह गुरुवार को भी अदालत में हाजिर नहीं होंगे तो आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 82 और 83 के तहत उनके खिलाफ इश्तेहार निकालने अथवा कुर्की की कार्रवाई हो सकती है। राज के खिलाफ इसी मामले में गत 30 सितंबर को भी इसी अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी करके मुंबई के पुलिस कमिश्नर से उन्हें यहां 17 नवंबर तक पेश करने के आदेश दिए थे। राज ने इस मामले में दक्षिण मुंबई की मझगांव अपर मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की एक अदालत से गत 15 नवंबर को 15 दिनों की अंतरित जमानत ले ली थी। गौरतलब है कि यहां की दो अदालतों से बारबार सम्मन और वारंट जारी होने के बावजूद ठाकरे अब तक व्यक्ितगत रूप से पेश नहीं हुए है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मनसे अध्यक्ष की गुरुवार को अदालत में पेशी