DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी के लिए दिल्ली में बसपा ही ठीक:मायावती

बसपा प्रमुख मायावती ने पार्टी कार्यकर्ताओं से केन्द्र में बसपा की सरकार बनाने के लिए लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की गद्दी पर उनकी अहम दावेदारी को देखते हुए कांग्रस और भारतीय जनता पार्टी बसपा के खिलाफ एकजुट हो गई हैं। इसका उदाहरण पिछले दिनों हुए चार रायों के विधानसभा चुनाव हैं जहाँ कांग्रस और भाजपा ने बसपा को न जीतने देने के लिए एक दूसर को वोट दिलवाए। उन्होंने कांग्रस पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कहा कि बसपा ने कांग्रस का राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चुनाव में पूरा साथ दिया लेकिन कांग्रस ने यूपी की बदहाली दूर करने के लिए उनकी सरकार द्वारा माँगा गया पैकेज नहीं दिया। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वह जनता के बीच जाकर बताएँ कि किस तरह यूपी की तकदीर केन्द्र में बसपा की सरकार बनने पर ही बदल सकती है।ड्ढr बसपा प्रमुख एवं मुख्यमंत्री मायावती ने बुधवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में रायस्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि मनमोहन सरकार के विश्वास मत के दौरान कुछ दलों ने जिस तरह उन्हें प्रधानमंत्री बनाने की बात कही वह कांग्रस और भाजपा के नेताओं को नहीं पची और दोनों दलों ने उन्हें पीएम न बनने देने के लिए गुप्त समझौता कर लिया। उन्होंने कहा कि हाल ही में चार रायों में हुआ विधानसभा चुनाव कांग्रस और भाजपा ने इसी गुप्त समझौते के तहत लड़ा। उन्होंने कहा कि इस गुप्त समझौते और सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग के बावजूद बसपा का वोट भी बढ़ा और सीट भी। उन्होंने चार रायों में पार्टी के चुनाव प्रबन्धन में लगे मंत्रियों, विधायकों और पार्टी नेताओं को बधाई भी दी।ड्ढr उन्होंने कहा कि यह भी सही है कि कुछ अधिकारी समाजवादी पार्टी से मिले हुए हैं और इस तरह के काम कर रहे हैं जिससे सरकार की छवि पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। लेकिन जल्दी ही वह ऐसे लोगों को दण्डित करंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूपी के लिए दिल्ली में बसपा ही ठीक:मायावती