अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्याचा न देने पर सूदखोर ने लाइनमैन के घर बम फेंका

बीएसएनएल में लाइनमैन राकेश चन्द्र त्रिपाठी ने मकान बनवाने के लिए विभाग के दफ्तरी हरिकृष्ण तिवारी से तीन साल पहले दो लाख 0 हाार रुपए ब्याा पर लिए थे। इन तीन सालों में राकेश ने करीब छह लाख रुपए अदा भी कर दिया पर सूदखोर हरिकृष्ण हिसाब खत्म ही नहीं कर रहा था। वह साठ हाार रुपए और माँग रहा था।..अब राकेश ने रुपए देने से मना कर दिया तो मंगलवार की रात सूदखोर ने उसके गोमतीनगर स्थित घर पर बम से हमला कर दिया। हमले में कोई घायल नहीं हुआ है। हमले की खबर मिलते ही अफसर राकेश के घर पहुँचे। पुलिस ने रात में ही दबिश देकर हरिकृष्ण को गिरफ्तार कर लिया। वह सूदखोरी के मामले में वान्टेड था।ड्ढr वास्तुखण्ड में रहने वाले राकेश चन्द्र त्रिपाठी के घर मंगलवार रात अचानक धमाका हुआ और गोलियों की आवाा सुनाई पड़ी। घर वाले बाहर निकले तो घर की दीवार पर बम फटने के निशान मिले। वहाँ निम्न कोटि का बारुद मिला। इसी आधार पर कहा गया कि किसी ने पटाखा बम फेंका है। राकेश व उनकी पत्नी नलिनी ने पुलिस को बताया कि कई दिन से हरिकृष्णोान से मारने की धमकी दे रहे थे। हरिकृष्ण के खिलाफ राकेश पिछले महीने रिपोर्ट भी लिखा चुके हैं। सूदखोरी का पुराना मामला समझते ही अफसरों ने उसी समय मुंशी पुलिया, खलील मार्केट, इन्दिरानगर के पास रहने वाले हरिकृष्ण के घर दबिश दी।ड्ढr घर वालों ने काफी देर तक दरवा नहीं खोला। पुलिस ने घर में घुसने की कोशिश की तो परिवारीानों ने चोर-चोर कहकर शोर मचाना शुरू कर दिया। घर के अन्दर से ही 100 नम्बर पर फोन कर दिया गया। वायरलेस पर मैसेा प्रसारित होते ही गााीपुर पुलिस और कई क्यूआरटी वहाँ पहुँच गई। पर, कुछ देर में ही सारा मामला समझ में आने पर सबने राहत की साँस ली। इसके बाद एसओ रुद्र कुमार सिंह व एसआई रााीव सिंह ने सख्ती की और हरिकृष्ण को गिरफ्तार कर लिया। हरिकृष्ण ने सूद वसूलने की बात स्वीकार की लेकिन बम फेंकने की बात से इनकार कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ब्याचा न देने पर सूदखोर ने लाइनमैन के घर बम फेंका