DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर में हुर्रियत का बंद, जनजीवन प्रभावित

कश्मीर में हुर्रियत का बंद, जनजीवन प्रभावित

आईएसआई लॉबिस्ट गुलाम नबी फई की अमेरिका में गिरफ्तारी के विरोध में हुर्रियत के कट्टरपंथी धड़े के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी के बंद के आह्वान के कारण कश्मीर में सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ।

अधिकारियों ने कहा कि कश्मीर के अधिकतर हिस्सों में दुकानें, व्यापारिक प्रतिष्ठान और स्कूल नहीं खुल सके। सार्वजनिक यातायात वाले वाहन भी सड़कों पर नजर नहीं आए। श्रीनगर के बाहरी क्षेत्रों में सिर्फ निजी गाड़ियां और टैक्सियां ही दिखाई दीं।

अधिकारियों के मुताबिक, अंतरराज्यीय बस सेवा भी बुरी तरह प्रभावित हुई। विभिन्न जिला मुख्यालयों में भी ज्यादा चहल-पहल नहीं थी। अधिकतर क्षेत्रों में परिवहन सेवाएं नहीं चलने के कारण सरकारी दफ्तरों में भी उपस्थिति कम देखी गई।

अमेरिका की एफबीआई ने 62 वर्षीय फई को 19 जुलाई को वर्जीनिया के फेयरफैक्स स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया था। उन पर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से हजारों डॉलर लेकर कश्मीर पर अमेरिका के नीति निर्धारिकों के नजरिए को बदलने की कोशिशें करने का आरोप है।

बुधवार से नजरबंद हुर्रियत नेता गिलानी ने लोगों से कुलगाम जिले में दो सैन्यकर्मियों द्वारा एक महिला से कथित बलात्कार करने की घटना का भी विरोध करने को कहा है। इस बीच, एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि घाटी में स्थिति शांतिपूर्ण है और अब तक किसी अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है। उन्होंने कहा कि मंजगाम में पुलिस तथा अर्धसैनिक बल सीआरपीएफ के कर्मी बड़ी तादाद में तैनात किये गये हैं। इस क्षेत्र में शुक्रवार को हिंसक संघर्ष हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कश्मीर में हुर्रियत का बंद, जनजीवन प्रभावित