अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यह मेला था जरा अलग किस्म का बार-बार हो यह आयोजन

हिन्दुस्तान एजुकेशन फेयर 200में रविवार को पहुंचे विद्यार्थियों व अभिभावकों ने आयोजन को खूब सराहा। कहा कि इस प्रकार के आयोजन से नये करियर की जानकारी मिलती है। डीएवी धनबाद के छात्र कुमार सौरभ ने कहा कि यहां उन्हें कई कोर्स के बार में जानकारी मिली है। डीएवी केदला के छात्र मृत्युंजय कुमार ने कहा कि यहां इंजीनियरिंग के साथ-साथ मैनेजमेंट के कई संस्थान हैं। यहां उन्हें काफी जानकारी मिली है। माधुरी कुमारी ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन से बच्चों को काफी लाभ हो रहा है। रातू रोड निवासी 12वीं की छात्रा निधि का मानना है कि इस प्रकार का मेला बार-बार लगना चाहिए। मेले में करियर के बार में कई प्रकार की जानकारियां उपलब्ध करायी गयी। डीएवी गांधीनगर की छात्रा अभिलाषा का कहना है कि यहां इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, मेडिकल सहित कई प्रकार के कोर्स की जानकारी दी जा रही है। इसका लाभ उन्हें मिला है। प्रीतम कुमार ने हिन्दुस्तान के प्रयास को सराहते हुए कहा कि इस प्रकार का आयोजन लगातार किया जाना चाहिए। मेडिकल के कोर्स के बार में जानकारी लेने पहुंचे संतोष कुमार ने कहा कि स्टॉलों पर उन्हें बेहतर जानकारी मिली है। आनेवाले दिनों में वे संस्थानों से संपर्क करंगे। कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में करियर बनाने की चाहत रखनेवाली प्रियंका ने कहा कि कई स्टॉलों में उन्हें महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं । मल्टीमीडिया और एनिमेशनड्ढr आइआइडीएए के स्टॉल में बीएससी और एमएससी मल्टीमीडिया एंड एनीमेशन कोर्स की जानकारी दी गयी। बीएससी मल्टीमीडिया कोर्स के लिए फीस 2.40 और एमएससी मल्टीमीडिया एंड ऐनीमेशन कोर्स के लिए 1.80 लाख रुपये रखी गयी है। संस्थान में बीबीए, बीसीए, एमबीए और एमसीए कोर्स भी चलता है। बीबीए और बीसीए के लिए 1.20 लाख रुपये फीस रखी गयी है।मेडिकल में नामांकन की सुविधाड्ढr एजुकेशन प्वाइंट के स्टॉल में एमबीबीएस और बीडीएस की जानकारी दी गयी। संजीव कुमार ने बताया कि एजुकेशन प्वाइंट शहर का लीडिंग काउंसिलिंग सेंटर है। यहां नामांकन लेने वाले विद्यार्थियों को महाराष्ट्र, कर्नाटक, उड़ीसा, तमिलनाडु, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, उत्तरांचल, पांडिचेरी, पंजाब, राजस्थान सहित कई राज्यों के मेडिकल कॉलेजों में नामांकन की सुविधा उपलब्ध करायी जाती है।इसके अलावा संस्थान में बीसीए, बीबीए, एमएड, बीएड, बीपीइडी, डीइडी, बायोटेक्नोलॉजी, होटल मैनेजमेंट, एलएलबी, नर्सिग, बी फार्मा, डी फार्मा, पीजीडीएम और एमसीए के भी कोर्स कराये जाते हैं। एमबीए से बीसीए तकड्ढr एसडीआइएमटी फरीदाबाद के स्टॉल में एमबीए, एचएम, बीबीए और बीसीए की जानकारी दी गयी। संस्थान के भरत शर्मा ने बताया कि यहां चलाये जाने वाले सभी कोर्स एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक से संबद्ध हैं। यहां छात्रों को मल्टीमीडिया एंड कंप्यूटर सेंटर,लाइब्रेरी, मैनेजमेंट क्लब, आइटी क्लब, बिजनेस क्लब, मीडिया क्लब, कांफ्रेंस हॉल, हॉस्टल, मेस, लोन फेसिलिटी भी मिलती है। ट्रांसपोर्ट और इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। बीआइटीटी में कई कोर्सड्ढr बिरसा इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के स्टॉल में एमबीए, बीबीए, एमसीए और बीसीए की जानकारी दी जा रही है। यहां बीटेक कोर्स की अवधि चार साल और डिप्लोमा कोर्स की अवधि तीन साल की है। संस्थान में छात्रों के लिए स्पोर्ट्स, हॉस्टल, कंप्यूटर और विशाखा छात्रवृत्ति की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। यहां प्रवेश परीक्षा की मेधा सूची के आधार पर नामांकन की व्यवस्था है।ड्ढr बीटेक-एमटेक के कोर्सड्ढr संत मेरी ग्रुप के स्टॉल में बीटेक, एमबीए, एमसीए, बीएड, एमटेक, पीजीडीएम, बी फार्मा और पोलिटेक्िनक की जानकारी दी गयी। यहां विद्यार्थियों को कैफेटेरिया, इंग्लिश लैंग्वेज लैब, स्पोर्ट्स कांप्लेक्स और डिािटल लाइब्रेरी की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। स्टॉल पर पहुंचे जिज्ञासुओं को करियर के विकल्पों से अवगत कराया गया। पीजीडीएम और पीजीसीएम का मार्गदर्शन एक्यूरट इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी के स्टॉल में पीजीडीएम और पीजीसीएम(रिटेल मैनेजमेंट) और पीजीडीएम(आइबी) की जानकारी दी गयी। संस्थान की रितू ने बताया कि छात्रों का चयन कैट, मैट, जेट, और एटीएमए के माध्यम से किया जाता है। संस्थान में विद्यार्थियों को कंप्यूटर सेंटर, लाइब्रेरी और लेटेस्ट क्लास रूम की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है।वर्ग एक से 12वीं तक की जानकारीड्ढr शांति ज्ञान इंटरनेशनल स्कूल दिल्ली के स्टॉल में वर्ग एक से 12 वीं तक की जानकारी उपलब्ध करायी गयी। स्कूल के डायरक्टर ऋषि खुराना ने बताया कि कैंपस में विद्यार्थियों को आइआइटी-ोइइ और मेडिकल इंटरंस के लिए कोचिंग की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। इसके अलावा एक्ट्रा क्लास, डांस, आर्ट एंड क्रोफ्ट, ताइकांडो, हार्स राइडिंग सहित अन्य खेलों की भी व्यवस्था है। विद्यार्थियों के बौद्धिक क्षमता के विकास के लिए कार्यशाला और सेमिनार का आयोजन किया जाता है। लाइब्रेरी में लेटेस्ट पुस्तकों की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है।डिािटल लाइब्रेरी की सुविधाड्ढr कालीचरण निगम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के स्टॉल में बीटेक और एमबीए की जानकारी दी गयी। यहां छात्रों को डिािटल लाइब्रेरी की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। संस्थान के प्लेसमेंट ऑफिसर श्यामजी निगम ने बताया कि संस्थान के छात्रों का रगुलर प्लेसमेंट इंफोसिस, विप्रो, महेंद्रा एंड महेंद्रा, रिलायंस, टीसीएस, एचसीएल, सत्यम और जिंदल में होता रहा है। ड्ढr कैंपस ट्रेंनिंग के लिए एचसीएल के साथ करार किया गया है। 30 हाार से 1.65 लाख तक के कोर्सड्ढr एसेंबली ऑफ क्राइस्ट एकेडेमी में डीएचएमसीटी, डीटीएएम, पीजीडीबीएम, एडीबीएम एडीसीए, पीजीडीएचएम, पीजीडीटीएम, एडीएफडीएम, एमबीए, बीबीएम, बीसीए, सीएचओ, सीटीओ, डीएफडी, सीटीडी और पीजीडीएम की जानकारी दी गयी। संस्थान की जयंती घोष ने बताया कि मैनेजमेंट के लिए 1.65, होटल एंड टूरिम मैनेजमेंट के लिए 1.5 लाख फीस है। और फैशन डिााइनिंग के लिए 30,600 रुपये फीस रखी गयी है। एडीएफडीएम कोर्स की अवधि दो साल, डीएफडी कोर्स की अवधि एक साल और सीटीडी कोर्स की अवधि छह माह की है। इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट की जानकारीड्ढr कैंब्रिज इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के स्टॉल में इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट की जानकारी दी गयी। यहां एमबीए के लिए 40 हाार रुपये प्रति सेमेस्टर और बीबीए के लिए 10 हाार रुपये प्रति सेमेस्टर फीस रखी गयी है। संस्थान में छात्रों को लाइब्रेरी, हॉस्टल, हेल्थ क्लब, ट्रांसपोर्ट,इंटरनेट और मेडिकल सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। पीजीपीएम और एमबीए की जानकारीड्ढr यूनाइटेड वर्ल्ड स्कूल ऑफ बिजनेस कोलकाता के स्टॉल में पीजीपीएम और एमबीए की जानकारी दी गयी। संस्थान के तौसिफ ने बताया कि संस्थान के कोलकाता और अहमदाबाद से एमबीए करने पर 3.80 लाख रुपये और मुंबई शाखा से एमबीए करने पर चार लाख रुपये खर्च होंगे। छात्रों के लिए लोन की व्यवस्था एचडीएफसी और आइडीबीआइ बैंक से उपलब्ध करायी गयी है। डय़ूएल स्पेशलाइजेशन भीड्ढr आइएसएम के स्टॉल पर पीजीडीएबीएम, डीएचएम और डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट की जानकारी दी गयी। डीएचएम के लिए 2.72 लाख, डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट के लिए 1.65 लाख और पीजीडीबीएम के लिए 3.15 लाख रुपये फीस रखी गयी है। संस्थान में लाइब्रेरी, हॉस्टल, लाइव प्रोजेक्ट, कंप्यूटर ट्रेनिंग, केस स्टडी और डय़ूएल स्पेशलाइजेशन सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। एमबीए की जानकारीड्ढr राजाराम बापू इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीा के स्टॉल में एमबीए की जानकारी दी जा गयी। संस्थान के डॉ जॉर्ज जोडा ने बताया कि संस्थान में एमबीए कोर्स के लिए 3.5 लाख रुपये फीस रखी गयी है। स्टॉल पर मौजूद विशेषज्ञों ने जानकारी दी कि एमबीए का कोर्स करने के बाद किन क्षेत्रों में करियर की संभावनाएं बनती हैं। यहां खासी संख्या में छात्र जानकारी लेने पहुंचे। 6.5 से 12 लाख तक के कोर्सड्ढr वेबेस्टर यूनिवर्सिटी के स्टॉल पर एमबीए और बीबीए की जानकारी दी जा रही है। यहां यूजी लेवल पर बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन, इंटरनेशनल बिजनेस, मीडिया कम्युनिकेशन, इंटरनेशनल रिलेशन और एमबीए के कोर्स चलाये जाते हैं। पीजी लेवल के सभी कोर्सो के लिए 6.5 लाख और यूजी लेवल के कोर्स के लिए 12 लाख रुपये फीस रखी गयी है। ड्ढr पीजी लेवल के कोर्स की अवधि एक वर्ष और यूजी लेवल कोर्स की अवधि तीन वर्ष की है। हेल्थ साइंस की जानकारीड्ढr ज्योति विद्यापीठ वीमेंस यूनिवर्सिटी जयपुर के स्टॉल में बीपीटी, बीएससी इन साइकोथेरपी, एमबीए इन हॉस्पीटल एडमिनिस्ट्रेशन, मास्टर इन साइकोथेरपी और मास्टर ऑफ साइंस इन मेडिकल टेक्नोलॉजी की जानकारी दी जा रही है। बीएसी इन साइकोथेरपी, एमबीए इन हॉस्पीटल एडमिनिस्ट्रेशन, बीएससी इन मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी सहित अन्य कोर्स यहां उपलब्ध हैं। मास्टर ऑफ साइंस इन मेडिकल टेक्नोलॉजी कोर्स की अवधि पांच साल की है। एआइइइइ-ोसीइसीए के कोर्सड्ढr आकाश इंस्टीट्यूट रांची शाखा के स्टॉल में एआइइइइ और जेसीइसीइ कोर्स की जानकारी दी गयी। संस्थान के मैनेडिंग डायरक्टर जेसी चौधरी ने बताया कि यहां छात्रों के लिए टेस्ट सिरीा, लाइब्रेरी, ट्रांसपोर्ट, हॉस्टल की भी सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। स्टॉल पर काफी संख्या में छात्र पहुंचे, जिन्हें करियर के विभिन्न विकल्पों की जानकारी दी गयी। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यह मेला था जरा अलग किस्म का बार-बार हो यह आयोजन