अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूरोपीय संघ ने भी की पाकिस्तान की घेराबंदी

यूरोपीय संघ ने भारत का पक्ष लेते हुये पाकिस्तान की राजनयिक घेरबंदी का फैसला किया है। मुंबई की आतंकी घटनाओं के परिप्रेक्ष्य में यूरोपीय संघ ने प्रधानमंत्री डॉ.मनमोहन सिंह की बात का समर्थन करते हुये दो टूक शब्दों में कहा है कि वह पाक पर इस बात का दबाव बनाएगा कि उसकी जमीन का इस्तेमाल आंतकी न करं और वह उनके खिलाफ सख्ती से पेश आये। यहां संवाददाताओं से बात करते हुये फ्रांस के राजदूत जेरोम बोनाफांट ने साफ कहा कि ईयू मुंबई जसी आंतकी घटनाओं को भारत में फिर से होते नहीं देखना चाहता। इसके लिए भारत सरकार के साथ प्रतिदिन उच्चस्तरीय बातचीत में लगा हुआ है। भारत की इच्छा के मुताबिक वह आंतकवादियों से निपटने की दिशा में भारत के साथ सुरक्षा क्षेत्र में साझा प्रयासों के साथ ही संवेदनशील सूचनाओं के आदान-प्रदान में भी पूरा सहयोग करगा। ईयू की नई अध्यक्षता हासिल करने वाले चेक गणराज्य के राजदूत हाइनेक मोनीसेक ने कहा कि आंतकवाद के साथ ही ईयू वित्तीय संकट के मामले में भी भारत का पूरा सहयोग करगा। फिलहाल उसने विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से कहा है कि इस संकट में मदद के लिए वह भारत जसे विकासशील देशों के लिए आर्थिक मदद बढ़ाये। उन्होंने कहा कि ईयू भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) के लिए पूरी तरह से तैयार है। वह इस बात का प्रयास करगा कि यहां लोकसभा चुनाव से पहले इस समझौते का मसौदा तैयार हो जाये ताकि नई सरकार के साथ बातचीत कर उसे अगले साल के समाप्त होने तक अंतिम रूप दिया जा सके।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूरोपीय संघ ने भी की पाकिस्तान की घेराबंदी