DA Image
12 अगस्त, 2020|6:07|IST

अगली स्टोरी

मुंबई हमला सोचा समझा अभियान : यूएस

अमेरिका का कहना है कि मुंबई आतंकवादी हमलों से पाकिस्तान के दूर-दराज के इलाकों में तालिबान के खिलाफ जारी अभियान में गतिरोध उत्पन्न हो गया है। अमेरिकी ज्वांइट चीफ ऑफ स्टाफ एडमिरल माइक मुलेन ने पाकिस्तान दौरे से स्वेदश लौटते हुए विमान में संवाददाताओं से कहा कि मुंबई हमले सोचा-समझा अभियान था, जिसके सामरिक परिणाम हुए। उन्होंने कहा कि इस हमले के बाद से पाकिस्तान के कबायली इलाकों में तालिबानी आतंकवादियों के खिलाफ चलाया जा रहे अभियान में गतिरोध उत्पन्न हो गया है। मुलेन के मुताबिक मुंबई हमले से अफगानिस्तान की सीमा से लगे बैजूर में पाकिस्तानी सरकार तालिबानियों के खिलाफ अभियान चला रही थी। अपने पाकिस्तान प्रवास के दौरान मुलेन ने पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल अशफाक कयानी और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल अहमद शूजा पाशा से मुलाकात कर मुंबई हमले के संदर्भ में चर्चा की। मुलेन ने कहा कि पाकिस्तान का दौरा सकारात्मक और अच्छा रहा। इससे अमेरिका-पाकिस्तान संबंध में निरंतरता बनी रहेगी। गौरतलब है कि गत 26 नवंबर को मुंबई में ताजमहल होटल और ओबरॉय होटल समेत कई अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर हुए आतंकवादी हमलों में लगभग 175 लोग मारे गए थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: मुंबई हमला सोचा समझा अभियान : यूएस