DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूएई में बस सकते हैं डॉक्टर हनीफ

आतंकवादियों को मदद देने के आरोप से आस्ट्रेलिया में दोषमुक्त करार दिए गए भारतीय मूल के डॉ. मोहम्मद हनीफ अब संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के शहर उम्म अल कुवैन में बसने की योजना बना रहे हैं। बतौर चिकित्सक यहां काम कर रहे डॉ. हनीफ के हवाले से ‘गल्फ न्यूज’ ने कहा कि यूएई में काफी सुकून है। विशेषकर प्रवासी भारतीयों से मुझे बहुत प्यार मिला है। यहां ऐसा लगता है जैसे मैं भारत में ही हूं। मुझे उम्म अल कुवैन के एक अस्पताल में नौकरी का प्रस्ताव मिला है। उल्लेखनीय है कि डॉ. हनीफ को पिछले वर्ष ब्रिटेन के ग्लासगो हवाई अड्डे पर हुए विस्फोट के सिलसिले में ऑस्ट्रेलिया में गिरफ्तार किया गया था। उन पर आतंकवादियों की मदद करने का आरोप लगाया गया था। लेकिन जांच के बाद ये आरोप वापस ले लिए गए और डॉ. हनीफ को भारत में अपने परिवार से मिलने की अनुमति दे दी गई। ऑस्ट्रेलिया सरकार ने मंगलवार को एक अधिकारिक रिपोर्ट में स्वीकार किया उन्हें गलत आरोपों के आधार पर गिरफ्तार किया था। गत छह महीने से दुबई में रह रहे 2वर्षीय डॉ. हनीफ ने कहा कि मैं चाहता हूं कि ऑस्ट्रेलिया सरकार मुझसे माफी मांगे। मैं इंतजार करूंगा और देखूंगा कि क्या होता है। जहां तक मुआवजे की बात है तो इस बारे में मैं अपने वकीलों की राय पर चलूंगा। यह मामला पूरी दुनिया में सुर्खियों में छा गया था। मेरे खिलाफ गंभीर आरोप लगाए गए थे जबकि मेरा इस मामले से कोई लेनादेना नहीं था। डॉ. हनीफ ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि मेरी बेगुनाही साबित हो गई है। इस रिपोर्ट से मेरी और मेरे परिवार की छवि में सुधार आएगा। मेरे साथ जो कुछ हुआ उससे मैं बहुत निराश था। मैं नहीं चाहता हूं कि फिर से मेरे साथ ऐसा कोई वाकया हो। इस रिपोर्ट का मेरी जिंदगी पर बहुत प्रभाव पड़ेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूएई में बस सकते हैं डॉक्टर हनीफ