अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसान क्रेडिट कार्ड बांटने में एक दर्जन जिले निठल्ले

राज्य के एक दर्जन जिले किसानों को क्रेडिट कार्ड बांटने में निठल्ले हैं। इनमें पटना, बक्सर, मधेपुरा, बेगूसराय, जमुई सहरसा, लखीसराय, भोजपुर, मुजफ्फरपुर, नालंदा, समस्तीपुर और पूर्णिया शामिल हैं। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने इन जिलों को अपना काम-काज सुधारने का निर्देश दिया है। जिलों के निठल्लेपन के कारण अब तक राज्य में लक्ष्य के आधे किसान क्रेडिट कार्ड भी नहीं बंट पाए हैं। राज्य सरकार ने इस वित्तीय वर्ष में 15 लाख कार्ड बांटने का लक्ष्य तय किया था। इस वर्ष को समाप्त होने में मात्र तीन महीने बचे हैं और अब तक मात्र साढ़े चार लाख कार्ड ही बांटे जा सके हैं। लक्ष्य हासिल करने के लिए राज्य सरकार 27 दिसम्बर को राज्य के सभी प्रखंडों में मेगा किसान क्रेडिट कार्ड कैम्प लगाने जा रही है।ड्ढr ड्ढr उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सभी विधायकों, विधान पार्षदों और पंचायती जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखकर अपील की है कि वे इन कैम्पों में अधिक से अधिक किसानों को क्रेडिट कार्ड दिलवाने में मदद करं। उन्होंने सभी प्रमंडलों के आयुक्तों और जिलाधिकारियों को इन कैम्पों को सफल बनाने के लिए कहा है। जनवरी में भी इस तरह के कैम्प लगाए जाएंगे।ड्ढr ड्ढr उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कैम्प लगाने के पहले ही सभी प्रखंडों में भूमि स्वामित्व प्रमाणपत्र दे दिया जाएगा। बैंकों से कहा गया है कि वे 50 हाार रुपये तक के लोन किसान क्रेडिट कार्ड, शपथ पत्र और अद्यतन लगान रसीद के आधार पर दे दें। वाणिज्यिक बैंकों को 8.61 लाख, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को 4.78 लाख तथा को-ऑपरटिव बैंकों को 1.60 लाख क्रेडिट कार्ड इस वर्ष बांटने हैं। उन्होंने बताया कि वे खुद पटना जिले के फतुहा प्रखंड में आयोजित मेगा किसान क्रेडिट कैम्प का उद्घाटन करंगे।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किसान क्रेडिट कार्ड बांटने में एक दर्जन जिले निठल्ले