DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार की कार्रवाई जायजः लालू

सरकार की कार्रवाई जायजः लालू

बाबा रामदेव के खिलाफ राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू यादव ने मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने कहा कि बाबा का काम राजनीति करना नहीं है, वह योग ही सिखाएं तो देश के लिए अच्छा होगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने अनशन को खत्म करने के लिए जो कुछ भी किया सही किया।

उन्होंने बाबा पह हमला बोलते हुए कहा कि बाबा रामदेव कॉरपोरेट बाबा हो गए हैं। उन्होंने कहा कि हमलोगों ने पहले से ही बाबा को आगाह किया था कि कॉरपोरेट घरानों से बचकर रहें।

लालू ने कहा कि बाबा रामदेव जैसे लोगों ने देश के लोकतंत्र का मजाक बनाकर रख दिया है। उन्होंने सवाल किया कि क्या कुछ लोग जमा होकर सरकार को ब्लैकमेल करेंगे और सरकार मान लेगी? क्या सरकार सड़क पर बैठे लोग चलाएंगे? उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं होगा। हमलोग लोकतंत्र का मजाक होने नहीं देंगे। कोई भी ऐसा कानून हमलोग संसद में पारित नहीं होने देंगे जो लोकतंत्र विरोधी हो।

लालू यादव ने कहा कि अगर उनको राजनीति में आना है तो आएं, लेकिन खुलकर आएं। इस प्रकार आरएसएस के हाथ में कठपुतली नहीं बनें। उन्होंने कहा कि आरएसए और बीजेपी अगला लोकसभा चुनाव को देखते हुए बाबा को आगे करके राजनीति कर रही है।

उन्होंने बाबा रामदेव का मजाक उड़ाते हुए कहा कि उनपर राहु ग्रह सवार हो गया है। रात में वह जिस तरह से मंच पर से कूदे उनका पैर टूट सकता था। उन्होंने यह भी कहा कि अगर उनको लगता है कि इस प्रकार के अनशन से काला धन वापस आ जाएगा तो उन्हें स्विस बैंक के सामने अनशन करना चाहिए।

उन्होंने पुलिस कार्रवाई का बचाव करते हुए कहा कि कांग्रेस इस अनशन के पीछे आरएसएस तथा बीजेपी के षडयंत्र को समझ गई थी, इसलिए इस प्रकार की कार्रवाई आवश्यक थी। हालांकि उन्होंने महिलाओं और बूढों पर की गई पुलिस ज्यादतियों का विरोध किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकार की कार्रवाई जायजः लालू