DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर के शनि मंदिरों में खास तैयारी

दिसंबर को शनैश्चरी अमावस्या है। साल में एक या दो बार ही ऐसा मौका आता है, जब शनिवार को अमावस्या होती है।ड्ढr माना जाता है कि इस दिन पूजा-अर्चना करने से शनि भगवान विशेष फल देते हैं। इसी भाव को आत्मसात कर श्रद्धालु ग्रहराज की विशेष पूजा-अर्चना करंगे। इसके लिए शहर के मंदिरों में खास तैयारी की गयी है। नार्थ मार्केट, अपर बाजार स्थित शनि मंदिर में सुबह श्रंगार और पूजा-अर्चना होगी। इसके बाद प्रसाद वितरण किया जायेगा। शाम साढ़े सात बजे महाआरती होगी।ड्ढr मंदिर के प्रधान पुजारी पंडित मुरारीलाल शर्मा ने बताया कि शनिदेव शत्रु नहीं, मित्र हैं। उनकी पूजा-अर्चना से सुख और समृद्धि की प्राप्ति होती है। जीवन में सफलता के लिए शनि देव की आराधना करनी चाहिए।ड्ढr नवनिर्मित शनि मंदिर, हिनू, शनिपुर, पहाड़ी मंदिर और गाड़ीखाना स्थित शनि मंदिरों में भी शनैश्चरी अमावस्या पर खास तैयारी की गयी है। इन मंदिरों में सुबह से देर शाम तक श्रंगार, पूजन, भंडारा और आरती की जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शहर के शनि मंदिरों में खास तैयारी