लंदन ओलंपिक के लिए अहम होगी फिटनेस: फर्नांडीज - लंदन ओलंपिक के लिए अहम होगी फिटनेस: फर्नांडीज DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लंदन ओलंपिक के लिए अहम होगी फिटनेस: फर्नांडीज

लंदन ओलंपिक के लिए अहम होगी फिटनेस: फर्नांडीज

भारतीय मुक्केबाजी टीम के क्यूबाई कोच बीआई फर्नांडीज ने कहा कि 2012 लंदन ओलंपिक की तैयारियों के मद्देनजर खिलाड़ियों का फिटनेस स्तर अहम भूमिका निभाएगा।

लंदन ओलंपिक 2012 को ध्यान में रखते हुए भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने मुक्केबाजी के पावरहाउस क्यूबा का ट्रेनिंग दौरा आयोजित किया है जिसमें 12 युवा मुक्केबाजों का दल हवाना में गिराल्डो कोरडोवा कार्डिन अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में भी शिरकत करेगा।

यह पूछने पर कि ओलंपिक के लिए कौन सी चीज भारतीय मुक्केबाजों के लिए महत्वपूर्ण होगी तो विदेशी कोच फर्नांडीज ने कहा कि फिटनेस स्तर निश्चित रूप से अहम भूमिका निभाएगा। ओलंपिक की तैयारियों के मद्देनजर फिटनेस स्तर पर भी काफी ध्यान देना होगा।
 
ओलंपिक क्वालीफाइंग के लिए पहला क्वालीफाईंग टूर्नामेंट सितंबर में एआईबीए विश्व चैम्पियनशिप होगा जो कोरिया के बुसान में आयोजित की जाएगी। फिर दूसरी प्रतियोगिता 2012 में यूरोपीय कांटीनेंटल क्वालीफायर होगी।

फर्नांडीज पिछले 15 साल से भारतीय मुक्केबाजी से जुड़े हुए हैं और इतने वर्षों से भारतीय मुक्केबाजी में चल रहे उतार चढ़ावों से भी अच्छी तरह वाकिफ हैं। वह भारतीय मुक्केबाजों को मिलने वाली लोकप्रियता से काफी खुश हैं और मानते हैं कि अब मुक्केबाजों के प्रदर्शन को पहले से कहीं अधिक सराहना मिलती है।

फर्नांडीज ने कहा कि यह देखकर अच्छा लगता है कि मुक्केबाजों के अच्छे प्रदर्शन को सराहा जाता है। इसमें मुक्केबाजों का भी बहुत योगदान रहा है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोई भी टूर्नामेंट हो, वे भारत के लिए पदक जीतकर ला रहे हैं जिससे उनका अच्छा प्रदर्शन साफ दिखाता है। जिस भी मुक्केबाज को अपने वर्ग में मौका मिलता है, वह अपना सर्वश्रेष्ठ करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ता।
 
अब मुक्केबाजी में नई स्कोरिंग प्रणाली आई है जिसमें उन मुक्केबाजों को सांमजस्य बिठाने में थोड़ी दिक्कत आएगी जो अब तक कोई भी टूर्नामेंट नहीं खेले हैं इसलिए यह क्यूबा दौरा उनके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।

उन्होंने कहा कि क्यूबा दौरा मुक्केबाजों के लिए फायदेमंद साबित होगा। इस तरह के ट्रेनिंग कार्यक्रम से भारतीयों को क्यूबा के मुक्केबाजों से भी सीख लेने का मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस तरह के दौरे मुक्केबाजों के फिटनेस स्तर को देखने के लिए मददगार साबित होते हैं और फिर क्यूबा तो मुक्केबाजी पावरहाउस हैं। वहां ट्रेनिंग और टूर्नामेंट से निश्चित रूप से मुक्केबाजों को अनुभव मिलेगा।

फर्नांडीज से जब क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में भारतीय संभावनाओं के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सभी मुक्केबाज क्वालीफाइंग के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं लेकिन इसमें भी उन्हीं मुक्केबाजों का चयन किया जाएगा जो फिटनेस के मामले में अव्वल हों।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लंदन ओलंपिक के लिए अहम होगी फिटनेस: फर्नांडीज