अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोचा पांच स्कूल का विजिट करं डीएसइ

डीएसइ के लिए रो पांच स्कूल का निरीक्षण करना अनिवार्य कर दिया गया है। निरीक्षण की रिपोर्ट भी उसी दिन शाम को फैक्स से सचिवालय भेजनी होगी। इतना ही नहीं हर महीने डीएसइ को यह शपथ पत्र देना होगा कि उन्होंने रो पांच स्कूलों का निरीक्षण कर रिपोर्ट दी है। सभी स्कूलों में मिड डे मिल योजना चालू है। इसके बाद ही उन्हें वेतन मिल पायेगा। शिक्षा विभाग के इस नये फरमान से जिला शिक्षा अधीक्षकों के होश उड़े हुए हैं।ड्ढr शिक्षा सचिव रविशंकर वर्मा द्वारा जारी पत्र में साफ का गया है कि मिड डे मिल में चूक हुई, तो संबंधित डीएसइ पर कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जायेगी। आरडीडीइ को भी स्कूल का निरीक्षण करने डीएसइ की रिपोर्ट का क्रास चेक करने का निर्देश दिया गया है। इधर, इस फरमान से डीएसइ की बेचैनी बढ़ गयी है। दबी जुबान से विभाग के इस आदेश को अव्यावहारिक भी कह रहे हैं।ड्ढr जानकार बताते हैं कि रो पांच स्कूल के निरीक्षण एवं रिपोर्ट तैयार कर भेजने में कम से कम पांच घंटे से भी ज्यादा समय लगेगा। ऐसी स्थिति में अन्य कामकाज पूरी तरह बाधित रहेगा। निरीक्षण के क्रम में मिड डे मिल योजना पर विशेष ध्यान देने की बात कही गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रोचा पांच स्कूल का विजिट करं डीएसइ