DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीजू के बिना मिश्रित युगल कमजोर कड़ी : ज्वाला

दीजू के बिना मिश्रित युगल कमजोर कड़ी : ज्वाला

अपने जोड़ीदार वी दीजू के फिट होने का इंतजार कर रही ज्वाला गुट्टा का मानना है कि उनके बिना सुदीरमन कप बैडमिंटन में मिश्रित युगल भारत की सबसे कमजोर कड़ी साबित होगा।
    
ज्वाला ने कहा कि भारत के पास मिश्रित युगल में अनुभव नहीं है और चीन में रविवार से शुरू हो रहे टूर्नामेंट में इसकी कमी खलेगी। ज्वाला ने कहा कि मुझे दीजू की कमी खल रही है। उसके बिना सुदीरमन कप टीम अधूरी है। मिश्रित युगल वर्ग में अनुभव की कमी है लिहाजा यह हमारी सबसे कमजोर कड़ी है।
    
दीजू के बिना मिश्रित युगल में अरूण विष्णु और अपर्णा बालन या प्रणव चोपड़ा और प्राजक्ता सावंत में से कोई जोड़ी खेलेगी। ज्वाला ने कहा कि मैंने शिविर में मिश्रित युगल का अभ्यास नहीं किया है। यदि हमारे पास दो अच्छी जोड़ियां है तो मैं नहीं खेलूंगी। वे पिछले चार साल से खेल रहे हैं। बस अंतरराष्ट्रीय अनुभव की कमी है।
    
सुदीरमन कप में भारत की संभावना के बारे में पूछने पर उसने कहा कि चीनी ताइपै और थाईलैंड कठिन टीमें नहीं है लेकिन उन्हें हलके में नहीं लिया जा सकता। यदि हम ग्रुप में शीर्ष पर रहकर क्वार्टर फाइनल खेल सके तो इससे बेहतर कुछ नहीं होगा।
    
पहली बार 2009 में ग्रुप बी में प्रमोट की गई भारतीय टीम रविवार को चीनी ताइपै के खिलाफ अभियान की शुरूआत करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दीजू के बिना मिश्रित युगल कमजोर कड़ी : ज्वाला