अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिम्स : इमरचोंसी सेवाएं ठप, लौट रहे मरीचा

रिम्स में मारपीट की घटना के बाद जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल कर दी है। अस्पताल की सभी इमरोंसी सेवाएं बंद करा दी गयी हैं। शनिवार को घटना के बाद सायंकालीन ओपीडी भी नहीं खुले। इमरोंसी बंद होने के कारण बाहर से आ रहे गंभीर मरीा भी लौट रहे हैं। सबसे बुरी स्थिति उन गरीब मरीाों की है, जो अपना इलाज प्राइवेट अस्पतालों में कराने में असमर्थ हैं।ड्ढr इससे पहले मारपीट की घटना से गुस्साये जूनियर डॉक्टरों ने अपराह्न दो बजे हड़ताल की घोषणा की। कहा कि जब तक उनलोगों की मांगें नहीं मानी जाती, हड़ताल जारी रहेगी। वे लोग इस स्थिति में काम नहीं कर सकते। डॉक्टरों में भय व्याप्त है। हड़ताल की घोषणा के साथ इमरोंसी में ताला जड़ दिया गया। मरीाों की भरती पर रोक लगा दी गयी। पहले से भरती मरीाों का बुरा हाल है।ड्ढr इनडोर रोगियों के इलाज की व्यवस्था कर रहे हैं: अधीक्षकड्ढr रांची। रिम्स अधीक्षक डॉ आइबी प्रसाद ने कहा कि अस्पताल में भरती रोगियों के इलाज की व्यवस्था की जा रही है। वे लोग जूनियर डॉक्टरों से बात करंगे, ताकि अस्पताल में इमरोंसी सेवाएं बहाल हो सकें। सीनियर डॉक्टरों को अस्पताल में भरती मरीाों को लगातार इलाज करते रहने का निर्देश दिया गया है।ड्ढr घटना दुखद, जूनियर डॉक्टरों से बात करंगे: निदेशकड्ढr रांची। रिम्स निदेशक डॉ एनएन अग्रवाल ने कैंपस में आकर डॉक्टरों के साथ मारपीट पर दुख जताया है। निदेशक ने कहा कि एक छोटी सी सड़क दुर्घटना के मामले को इतना तूल दिया गया। डॉक्टरों के साथ मारपीट उचित नहीं है। वे डॉक्टरों से बात कर हड़ताल समाप्त कराने का प्रयास करंगे। मारपीट पर आइएमए गरमरांची। रिम्स परिसर में डॉक्टरों से साथ मारपीट पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) ने रोष व्यक्त किया है। आइएमए पदाधिकारियों ने दोषी व्यक्ितयों को गिरफ्तार करने की मांग की है। रविवार को आइएमए पदाधिकारियों की बैठक शाम पांच बजे मुख्यालय में होगी। इसमें राज्यव्यापी आंदोलन पर विचार किया जायेगा।ड्ढr रांची आइएमए के सचिव डॉ प्रभात कुमार ने कहा कि रिम्स परिसर में जिस तरह से घुसकर रोड़ेबाजी और पत्थरबाजी की गयी, यह शर्मनाक है। पुलिस इस दौरान मूकदर्शक बनी रही। उलटे पुलिस ने डॉक्टरों पर ही लाठियां बरसायीं। डॉ कुमार ने कहा कि रिम्स में सुरक्षा बहाल नहीं हुई, तो डॉक्टर राज्यव्यापी हड़ताल के लिए बाध्य होंगे।ड्ढr राज्य आइएमए के संयुक्त सचिव डॉ बिमलेश सिंह ने घटना की निंदा की है। कहा है कि पुलिस को शीघ्र ही इसमें दोषी लोगों को गिरफ्तार करना चाहिए। रविवार को होने वाली बैठक में आंदोलन पर विचार होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रिम्स : इमरचोंसी सेवाएं ठप, लौट रहे मरीचा