DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर चोरी पर पेनाल्टी के साथ प्राथमिकी भी दर्ज होगी

र चोरी का अपराध बार-बार करने वाले व्यापारियोें पर पेनाल्टी के साथ-साथ अब प्राथमिकी भी दर्ज होगी। वाणिज्य कर विभाग का मानना है कि लगातार छापेमारी करने एवं पेनाल्टी करने के बावजूद व्यापारियों की कार्यप्रणाली में किसी प्रकार का कोई सुधार नहीं हो रहा है। व्यापारी बार-बार सरकारी कानून का उल्लंघन कर खुलेआम टैक्स की चोरी कर रहे हैं। स्थिति यह है कि व्यापारी न तो कैशमेमो काटते हैं और अगर काटते भी हैं तो सादे कागज पर, जिसपर फर्म का नाम तक अंकित नहीं रहता।ड्ढr ड्ढr और तो और एक ही परमिट पर व्यापारी कई बार माल मंगवा रहे हैं। ऐसी स्थिति में विभाग नेअब व्यापारियों पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्णय लिया है। सूबे के कई व्यापारी ऐसे हैं जिन्होंने पिछले साल से कम टैक्स दिया है। केवल पटना में ऐसे बड़े व्यापारियों की संख्या 150 से ऊपर है। अगर छोटे व्यापारियों को भी मिलाया जाए तो इसकी संख्या बढ़ कर लगभग 300 हो जाएगी। पिछले दो दिनों की छापेमारी से यह साबित हो रहा है कि व्यापारी खरीद एवं बिक्री की कोई रसीद काटते ही नहीं। थोड़ा बहुत काटते भी हैं तो वह भी अपने मन के अनुसार। यही कारण है कि विभाग को केवल प्रथम बिन्दु पर से टैक्स प्राप्त हो रहा है। दूसरे एवं तीसरे बिन्दु पर टैक्स नहीं के बराबर मिल रहा है। हालांकि विभाग द्वारा व्यापारियों को हमेशा निर्देश दिया जाता है, परंतु कार्रवाई नहीं की जाती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कर चोरी पर पेनाल्टी के साथ प्राथमिकी भी दर्ज होगी