DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंकों में भ्रष्टाचार पर रोक लगायें शीर्ष अधिकारी: नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बैंकों के माध्यम से क्रियान्वित होने वाली कई योजनाओं में बिचौलियों तथा कमीशनखोरी पर चिंता जताते हुए बुधवार को कहा कि शीर्ष अधिकारियों को इस पर गंभीरता से ध्यान देते हुए रोक लगानी चाहिए।

बैंकों की राज्य स्तरीय समिति (एसएलबीसी) बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि बैंक सेवाओं को प्राप्त करने में भ्रष्टाचार लोगों के लिए चिंता का सबब बना हुआ है। किसान क्रेडिट कार्ड और इंदिरा आवास योजना में बैंक कर्मियों की मिलीभगत से बिचौलिये पैसा कमा रहे हैं। शीर्ष अधिकारियों को इस पर रोक लगानी चाहिए।

नीतीश कुमार ने कहा कि बिचौलियों के कारण लाभार्थियों को ऋण के लिए और सेवाओं के लिए बैंकों से सीधे संपर्क करने में बड़ी कठिनाई होती है।

उन्होंने कहा कि इंदिरा आवास योजना में लाभान्वित होने वाले व्यक्ति को 45,000 रुपए देने का प्रावधान है लेकिन बैंक कर्मचारी और दलाल लाभार्थी को यह जानने ही नहीं देते की उसके खाते में कितना पैसा है। वे लाभार्थी का खाता अपने पास रखते हैं।

नीतीश कुमार ने कहा कि आईएएस और आईपीएस अधिकारी योजनाएं बनाते हैं और कम पढ़े लिखे दलाल भ्रष्टाचार से पैसा बनाने की गुंजाइश खोज लेते हैं। लोगों का शोषण होता है। ऐसे भ्रष्टाचारियों के खिलाफ मुकदमा दायर कर स्पीडी ट्रायल कराने की व्यवस्था करनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार बढ़ेगा तो लोगों का बैंकों के प्रति भरोसा कम होगा। देश के लोग भ्रष्टाचार को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंकों में भ्रष्टाचार पर रोक लगायें शीर्ष अधिकारी: नीतीश