DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन से तारीफ मिलना सबसे बड़ा पुरस्कार : वॉलथाटी

सचिन से तारीफ मिलना सबसे बड़ा पुरस्कार : वॉलथाटी

आईपीएल में अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के दम पर प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट की दौड़ में अग्रणी पॉल वॉलथाटी का मानना है कि अपने आदर्श सचिन तेंदुलकर से तारीफ पाना उनके करियर का सबसे बड़ा पुरस्कार है।
    
आईपीएल के चौथे सत्र की खोज साबित हुए किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाज वॉलथाटी ने अब तक 13 मैचों में 458 रन बना लिए हैं। वह सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में अपनी ही टीम के शॉन मार्श (491) से पीछे हैं। वहीं मुंबई इंडियंस के कप्तान सचिन तेंदुलकर के 12 मैचों में 408 रन हैं।
    
वॉलथाटी ने बातचीत में कहा कि मुझे लगता है कि प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार क्रिस गेल या लसिथ मलिंगा को मिलेगा। लेकिन मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं और तेंदुलकर से तारीफ पाना मेरे लिए सबसे बड़ा पुरस्कार है।
     
उसने कहा कि सचिन मेरे आदर्श रहे हैं। मुंबई में एक मैच के बाद उन्होंने मुझे मेरी बल्लेबाजी के लिए बधाई दी थी। यह मेरे जीवन का सबसे यादगार पल और सबसे बड़ा पुरस्कार है। विवियन रिचडर्स और वीरेंद्र सहवाग को सबसे आक्रामक बल्लेबाजों में गिनने वाले वॉलथाटी ने कहा कि वह किसी की नकल करने की कोशिश नहीं करते।
     
मुंबई के रहने वाले इस बल्लेबाज ने कहा कि विश्व क्रिकेट में रिचडर्स जैसा आक्रामक बल्लेबाज कोई नहीं हुआ। मौजूदा बल्लेबाजों की बात करें तो सहवाग सबसे विस्फोटक हैं। मैंने दोनों की बल्लेबाजी देखी है लेकिन मैं किसी को कॉपी करने की कोशिश नहीं करता। यह संभव ही नहीं है। सभी की अपनी शैली है।

आईपीएल चार को अपने करियर का सबसे बड़ा मौका बताने वाले वॉलथाटी ने कहा कि यह मेरे लिए क्रिकेट में वापसी की तरह था और मुझे खुशी है कि मैं अपेक्षाओं पर खरा उतर सका। उन्होंने अपने कप्तान एडम गिलक्रिस्ट को इसका श्रेय देते हुए कहा कि गिली मेरे लिए बड़ी प्रेरणा रहे हैं। मैं बचपन से उनका खेल देखता आया हूं। बल्लेबाजी के दौरान भी वह मुझे नैसर्गिक खेल दिखाने की सलाह देते हैं और मुझ पर से दबाव कम कर देते हैं। इससे मेरा काम आसान हो जाता है।
    
आईपीएल चार में शानदार शुरूआत के बाद पंजाब ने बीच में कई मैच गंवाने के बाद लगातार चार जीत दर्ज करके प्लेऑफ में प्रवेश की उम्मीदें बरकरार रखी है। इसके लिए उसे डेक्कन चार्जर्स को हराने के साथ दूसरे मैचों में अनुकूल नतीजों की दुआ करनी होगी।
     
वॉलथाटी ने कहा कि अभी भी हम सेमीफाइनल की दौड़ में है। इसके लिए डेक्कन के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करके जीत की लय को कायम रखेंगे। दक्षिण अफ्रीका में 2009 में हुए आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए दो मैच खेलने वाले वॉलथाटी ने शेन वॉर्न और गिलक्रिस्ट को बेहतरीन कप्तान बताते हुए तुलना से इनकार किया।
    
उसने कहा कि दोनों ही शानदार कप्तान हैं और लीजैंड भी। इनकी तुलना नहीं हो सकती। खिलाड़ियों को दोनों से पूरी मदद मिलती है। इस युवा बल्लेबाज ने उम्मीद जताई कि आईपीएल के प्रदर्शन से राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने का मार्ग प्रशस्त होगा। उसने कहा कि मेरा भी सपना देश के लिए खेलना है। मैं अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की कोशिश कर रहा हूं। आगे देखते हैं कि क्या होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सचिन से तारीफ मिलना सबसे बड़ा पुरस्कार : वॉलथाटी