DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईपी यूनिवर्सिटी के छात्र ने अंटार्कटिका के रहस्य समझे

दुनिया भर के वैज्ञानिक ग्लोबल वार्मिंग के कारणों को तलाशने लगे हैं वह उसके लिए अंटार्कटिका के दक्षिणी ध्रुव के रहस्यों को तलाशने लगे हैं। दिल्ली के गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के यूनिवर्सिटी ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी के द्वितीय वर्ष के छात्र अमन मलिक को अंटार्कटिका के दक्षिणी ध्रुव जाकर वहां के गूढ़ रहस्यों को समझने का मौका मिला है। उन्हें ये मौका कनाडा के रिसर्च संस्थान के स्टूडेंट्स ऑन आइस प्रोजेक्ट के तहत मिला। इस संस्थान द्वारा चुने गए 53 सदस्यीय दल में अमन एकमात्र भारतीय थे। इस दल में 12 देशों जैसे कि कनाडा, स्वीडन, जापान, कुवैत आदि के छात्र शामिल थे। इस दल ने दक्षिणी ध्रुव जाकर वहां की वाइल्डलाइफ, ग्लैशियर, जियोलॉजी और समुद्र आदि का अध्ययन किया।

अमन कहते हैं कि मेरे लिए यह रोमांचित कर देने वाला अनुभव था। उन्होंने बताया कि वहां पर मैंने बर्फ के विभिन्न रूपों का अध्ययन किया, बर्फ कैसे बनी, वहां का वातावरण कैसा है आदि। वह कहते हैं कि हम नाव पर ही खाना खाते थे। मेरा मकसद है कि आगे मैं भारत के मैत्रेयी स्टेशन पर जाऊं। अपने अनुभव के बारे में बताते हुए अमन कहते हैं कि बीच में तूफान आ गया था। लहरें 35 फीट ऊंची उठ रही थी ऐसा लग रहा था कि जैसे जहाज टूट जाएगा। हम पूरे एक दिन तक तूफान में फंसे रहे। पर खुशकिस्मती थी कि हम बाल-बाल बच गए। इस यात्रा ने मुझे एहसास कराया कि प्रकृति में कितनी ताकत होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईपी यूनिवर्सिटी के छात्र ने अंटार्कटिका के रहस्य समझे