DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गेल के तूफान से लड़ना होगा पंजाब को

गेल के तूफान से लड़ना होगा पंजाब को

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और किंग्स इलेवन पंजाब इंडियन प्रीमियर लीग मैच में मंगलवार को जब आमने सामने होंगे तो क्रिस गेल की विस्फोटक बल्लेबाजी निर्णायक अंतर पैदा कर सकती है।

बेंगलोर ने गेल के टीम से जुड़ने के बाद पिछले सात मैच में लगातार जीत दर्ज की है जिससे उसने प्ले ऑफ में जगह सुरक्षित कर ली। दूसरी तरफ पंजाब ने लगातार तीन मैच जीते हैं लेकिन वह अब भी नॉकआउट में पहुंचने के लिए संघर्ष कर रहा है।

गेल को फिटनेस कारणों से वेस्टइंडीज की टीम में नहीं चुना गया था लेकिन आईपीएल में पहुंचने के बाद वह गेंदबाजों का कत्लेआम करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। पंजाब के लिए चिंता का विषय यह है कि गेल ने इस आईपीएल सत्र में जो दो शतक जमाए हैं उनमें से एक सैकड़ा उन्होंने एडम गिलक्रिस्ट की टीम के खिलाफ ही बनाया है। उस मैच में बेंगलोर ने 205 रन बनाए लेकिन पंजाब इसके जवाब में नौ विकेट पर 120 रन ही बना पाया था।

पंजाब की प्ले ऑफ में जगह बनाने के क्षीण संभावना है। उसे इसके लिए जीतना जारी रखना होगा लेकिन बेंगलोर की मजबूत टीम के खिलाफ ऐसा करने के लिए उसे विशेष प्रयास करने होंगे। कप्तान गिलक्रिस्ट, पॉल वलथाटी, शॉन मार्श, दिनेश कार्तिक और डेविड हस्सी के रूप में पंजाब के पास अच्छी बल्लेबाजी लाइन अप है।

इनमें से यदि केवल दो बल्लेबाज भी बड़ी पारी खेल लेते हैं तो यह चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा करने के लिए पर्याप्त होगी। जहां तक गेंदबाजी का सवाल है पंजाब को लगातार संघर्ष करना पड़ रहा है। दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ पिछले मैच में तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार और स्पिनर पीयूष चावला ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन गेल के विस्फोटक तेवरों पर विराम लगाना उनके लिए कड़ी चुनौती होगी।

बेंगलोर की बात करें तो गेल की सफलता ने टीम को आश्चर्यजनक परिणाम दिए हैं। टीम के लिए हालांकि इस कैरेबियाई बल्लेबाज पर बहुत अधिक निर्भरता भी चिंता का विषय है। गेल बिग हिटर हैं लेकिन उनका रिकॉर्ड बताता है कि वह लगातार एक जैसा प्रदर्शन करने में भी नाकाम रहे हैं। ऐसे में अन्य बल्लेबाजों जैसे कि ल्यूक पोमरबाक, विराट कोहली और एबी डिविलियर्स को भी बायें हाथ के इस बल्लेबाज की मदद के लिए पूरा प्रयास करना होगा।

कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ गेल के 38 रन पर आउट हो जाने के बाद रॉयल चैलेंजर्स ने 102 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए छह विकेट गंवा दिए थे जो कि उसके लिए चिंता का विषय है। गेंदबाजी विभाग में जहीर खान की उपस्थिति टीम के लिए अच्छी साबित हो रही है। यह तेज गेंदबाज हालांकि क्रिकेट में लगातार व्यस्त रहने के कारण थक गया है और उन्हें चार्ल लांगवेल्ट, श्रीसंत अरविंद और अभिमन्यु मिथुन से पर्याप्त सहयोग की जरूरत है।

दोनों टीमों के फॉर्म को देखते हुए इस मैच में दोनों की टीमों की स्थिति समान दिखती है लेकिन गेल के फॉर्म से बेंगलोर का पलड़ा थोड़ा भारी लगता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गेल के तूफान से लड़ना होगा पंजाब को