DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेस्टइंडीज ने 27 महीने बाद जीता पहला टेस्ट

वेस्टइंडीज को कभी क्रिकेट का बादशाह माना जाता था लेकिन अब उसे जीत के लिए कितना लंबा इंतजार करना पड़ रहा है इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान के खिलाफ रविवार को यहां पहले टेस्ट मैच में 40 रन की जीत उसकी क्रिकेट के इस प्रारूप में 27 महीने बाद पहली जीत है।

पाकिस्तान की टीम 219 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चौथे दिन लंच के 50 मिनट बाद 178 रन पर सिमट गयी। वेस्टइंडीज को लंबे अंतराल के बाद मिली इस जीत के नायक कप्तान डेरेन सैमी रहे जिन्होंने 17 ओवर में 29 रन देकर पांच विकेट लिए। इस प्रभावशाली प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। सैमी को रवि रामपॉल का पूरा साथ मिला। उन्होंने 21 ओवर में 48 रन देकर चार विकेट लिए।

क्रिकेट में 70 और 80 के दशक में वेस्टइंडीज की तूती बोलती थी लेकिन अब उसे बड़ी मुश्किल से जीत नसीब हो रही है। वेस्टइंडीज ने इससे पहले आखिरी बार टेस्ट क्रिकेट में जीत का स्वाद फरवरी 2009 में चखा था। तब उसने जमैका में इंग्लैंड को पारी और 23 रन से हराया था।

कैरेबियाई टीम ने इसके बाद 17 टेस्ट मैच खेले जिनमें से आठ में उसे हार झेलनी पड़ी जबकि बाकी नौ मैच ड्रॉ रहे। यही नहीं 2000 के बाद वेस्टइंडीज ने जो 101 टेस्ट मैच खेले हैं उसमें से केवल उसे 15 में जीत मिली जबकि 54 में उसे हार का सामना करना पड़ा।

यही वजह है कि सैमी ने वेस्टइंडीज के लिए इस जीत का खास बताया और कहा कि कैरेबियाई क्रिकेट को इसकी सख्त जरूरत थी। सैमी ने मैच के बाद कहा कि यह जीत बहुत खास है। टीम के तौर पर हमें इस तरह के प्रदर्शन और इस जीत की जरूरत थी। मैं अपने खिलाड़ियों और इस मुश्किल पिच पर बल्लेबाजी करने वाले प्रत्येक खिलाड़ी की तारीफ करता हूं। यह पूरी टीम का प्रयास था।

सैमी लगातार लचर प्रदर्शन के कारण वेस्टइंडीज के क्रिकेट प्रेमियों के निशाने पर थे लेकिन उन्हें लगता है कि उन्होंने आलोचकों को जवाब दे दिया है। नवंबर में कप्तानी संभालने के बाद उन्हें पहली बार किसी टेस्ट मैच में जीत मिली।

उन्होंने कहा कि जब मैं वेस्टइंडीज की कैप पहनकर मैदान पर उतरता हूं तो अपना तन मन खेल में झोंक देता हूं। मुझे पता है कि हाल में परिस्थितियां मेरे अनुकूल नहीं रही लेकिन मुझे खुद पर और अपने साथियों पर पूरा भरोसा था। इस परिणाम का मतलब यह भी है कि पाकिस्तान को कैरेबियाई सरजमीं पर सीरीज़ जीतने के लिए अभी अगले दौरे तक इंतजार करना पड़ेगा।

पाकिस्तानी कप्तान मिसबाह उल हक ने कहा कि टेस्ट मैच की हार पचाना कभी आसान नहीं होता है। लेकिन उन्होंने हमसे बेहतर क्रिकेट खेली। उन्होंने वास्तव में पूरे मैच में अच्छी और अनुशासित गेंदबाजी की। अधिकतर समय उन्होंने अच्छी गेंदबाजी से हमें आउट किया।

मिसबाह ने कहा कि हमारी तरफ से सभी ने कुछ न कुछ गलती की लेकिन खासकर हमारा क्षेत्ररक्षण खराब रहा। हमने कई कैच टपकाए। हमने कई रन दिए विशेषकर वे रन जो पुछल्ले बल्लेबाजों ने बनाए। प्रत्येक पारी के अंत में उनकी अच्छी साझेदारी रही और यह वास्तव में महत्वपूर्ण साबित हुई। इस जीत से वेस्टइंडीज दो मैच की सीरीज़ में 1-0 से आगे हो गया है। दूसरा टेस्ट मैच सेंट किट्स में शुक्रवार से शुरू होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वेस्टइंडीज ने 27 महीने बाद जीता पहला टेस्ट