DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रविवार की सुबह उठते ही उमस भरी गर्मी से लोगों की परेशानी बढ़ गई। सूरज की किरणों से आग बरसने लगी। लोगों को न घर में चैन मिल रहा था न बाहर ही आराम था। गर्मी से बचने के लिए कोई मुंह को तौलिया व अंगोछा से ढंककर तो कोई सनग्लासेज लगाकर घर से बाहर निकले। लेकिन बाहर में ऐसा लग रहा तो मानो आग बरस रही हो।

दोपहर को तो सड़कों पर आवाजाही बिल्कुल कम हो गई। संडे की छुट्टी का मजा भी किरकिरा हो गया। उमसभरी गर्मी से लोग हलकान रहे तो शाम को विवश होकर गर्मी से राहत के लिए घर से निकले। किसी ने पार्क की तरफ रूख किया तो कोई अपने बच्चों के साथ गंगा घाट की ओर चल पड़े। शाम के वक्त विक्रमशिला सेतु पर भी लोगों की अच्छी-खासी भीड़ थी।

शाम होते ही कई अभिभावक अपने बच्चों के साथ आइसक्रीम खाने बाजार चल पड़े। बाजार में आइसक्रीम की दुकानों पर बच्चों और युवाओं की भीड़ लगी रही। वहीं मौसम का मिजाज शाम के वक्त थोड़ा जरूर बदल गया। हल्की हवा बहने से लोगों ने थोड़ी राहत महसूस की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उफ ! इतनी गर्मी : घर में चैन न बाहर आराम