DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

14 हचाार बेसिक पर सहमत

पांच साल के वेतन समझौते के लिए पांचों श्रमिक संगठन न्यूनतम 14 हाार बेसिक पर सहमत हैं। प्रबंधन के सामने यही मांगें रखी जायेंगी। राष्ट्रीय कोयला मजदूर यूनियन के महामंत्री राजेश कुमार सिंह ने बताया कि दो से चार जनवरी तक हैदराबाद में होनेवाली बैठक में न्यूनतम बेसिक तय हो जाने की उम्मीद है। भुनेश्वर की बैठक में प्रबंधन ने बेसिक 7752 रुपये का ऑफर दिया था। इसे सभी संगठनों ने खारिा कर दिया था। उन्होंने कहा कि कामगारों के लिए बेहतर वेतन और सुविधा दिलाने के लिए संगठन प्रतिबद्ध है।ड्ढr कोयला ने पीएसएयू को नयी राह दिखायीड्ढr रांची। एटक के जेबीसीसीआइ सदस्य लखनलाल महतो ने कहा कि है कि कोयला ने पीएसयू को नयी राह दिखायी है। कामगारों की एकता की बदौलत ही शत प्रतिशत डीए मर्जर पर पांच साल के वेतन समझौता करने के लिए प्रबंधन तैयार हुआ है। सातवां वेतन समझौता में भी यही एकाुटता के कारण प्रबंधन को झुकना पड़ा था। उन्होंने कहा कि दस साल के समझौते का राग अलाप कर कामगारों की एकता तोड़नेवालों को भी सबक सिखाया है।ड्ढr दम है, तो नजदीक करं बैठकड्ढr रांची। द झारखंड कोलियरी मजदूर यूनियन के महासचिव सनत मुखर्जी ने कहा कि मनमानी और कामगारों के हित से खिलवाड़ करने के लिए जेबीसीसीआइ की बैठक दूर-दूर रखी जाती है। प्रबंधन और संगठन प्रतिनिधियों की इसमें मिलीभगत होती है। उनमें दम है, तो नजदीक में बैठक करके दिखाये।ड्ढr सीकेएस की बैठक 30 कोड्ढr रांची। सीसीएल कोलियरी कर्मचारी संघ की बैठक 30 दिसंबर को दस बजे से बरकाकाना स्थित केंद्रीय कार्यालय में होगी। मंत्री एसएन सिंह ने बताया कि इसमें पिछले दिनों चलाये गये आंदोलन की समीक्षा होगी और आगे की रणनीति भी तय की जायेगी।झारखंड बचाओ महारैली अब रवरी कोरांची। झारखंड विकास मोरचा बैठक पर बैठक कर रहा है। महारैली की तिथि बढ़ती जा रही है। केंद्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने अब महारैली की नयी तिथि नौ फरवरी तय की है। मैथन में हुई कार्यसमिति की बैठक में निर्णय लिया गया था कि रांची में झारखंड बचाओ महारैली की जायेगी। इसके लिए 30 नवंबर की तिथि तय की गयी। रांची जिला ग्रामीण कमेटी के अनुरोध पर रैली की तिथि बढ़ाकर तीन दिसंबर की गयी। फिर तीन दिसंबर के लिए तैयारी आरंभ हुआ। इस बीच पुन: कहा गया कि दिसंबर में शादी-ब्याह का लगन है, रैली 12 जनवरी को की जाये। पार्टी सुप्रीमो ने स्वीकृति दे दी। फिर कार्यकर्ता तैयारी में जुटे। पुन: ग्रामीण कमेटी का कहना है कि तमाड़ उपचुनाव के कारण आठ जनवरी तक आचार संहिता लागू है, इसलिए नौ फरवरी को महारैली की जाये। बताया जाता है कि मरांडी ने इस पर सहमति जता दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 14 हचाार बेसिक पर सहमत