DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नगर निगम ने दावा किया था कि उनकी वोटर लिस्ट दुरुस्त हैं लेकिन रविवार को वोटिंग के दिन वोटर लिस्ट में गड़बड़ी के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। एक तरफ जहां प्रत्याशियों का आरोप था कि निगम से जो वोटर लिस्ट उन्हें मिली थी वह अभी चुनाव कराने आए अधिकारियों की वोटर लिस्ट से मैच नहीं कर रही है।

दूसरी ओर नए वोटर लिस्ट बनवाए लोग भी इस गड़बड़ी कारण बूथ से निराश लौटे। वार्ड संख्या-12 में अर्जुन नगर में रहने वाले प्रवीर शंकर ने बताया कि उन्होंने नए वोटर कार्ड बनवाने के लिए आवेदन किया था। सारे कागजात जमा किए थे। बाद में अधिकारियों से पूछता भी रहा कि कब आईडी मिलेगी तो जवाब मिला की जून के बाद।

मेरा आवेदन स्वीकृत हो गया था मगर अब जब मैं कई बूथों पर घूमा और प्रत्याशियों के पास उपलब्ध डाटा बेस में अपना नाम ढूंढा तो मेरा नाम वोटर लिस्ट में ही शामिल नहीं किया गया है। दूसरी ओर कई ऐसे प्रत्याशी थे जिनके वोटर आईडी में उनकी संख्या पर किसी और की आईडी निगम की वोटर लिस्ट में थी।

वार्ड संख्या 12 के बूथ संख्या 8 पर वोटिंग करने आई मीनाक्षी ने अपना वोटर कार्ड दिखाते हुए कहा कि इसमें मेरा नंबर 836 है, जबकि मैं पर्ची बनवाने गई तो वोटर लिस्ट में इस नंबर पर वरुण कुमार का नाम था। लिहाजा वोट नहीं दे पाई। इसी वार्ड की उमा मनचंदा ने बताया कि वोटर लिस्ट में उनके नंबर पर किसी और की फोटो और नाम है। रितुरानी भी इसी वजह से वोट नहीं कर पाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वोटर लिस्ट में गड़बड़ी से लोग हुए परेशान