DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती से राहुल को जान का खतरा: जितिन

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्य मंत्री जितिन प्रसाद ने कहा है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव राहुल गांधी को उत्तर प्रदेश की मायावती सरकार से जान का खतरा है। उन्होंने कहा कि नोएडा के भट्टा पारसौल कांड के बाद प्रदेश सरकार गांधी के साथ ‘कुछ भी’ घटना को अंजाम दे सकती है।

प्रसाद ने आशंका जताई कि राहुल के यूपी दौरे के दौरान असुरक्षा के नाम पर बसपा सरकार कोई भी साजिश रच सकती है। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार से खतरे के बाद भी कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव अपने उद्देश्यों से पीछे हटने वाले नहीं हैं। प्रसाद शनिवार को यहां गिरफ्तार कांग्रेसियों को रिहा कराने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि गैर कांग्रेसी दल भट्टा पारसौल के मामले में विशुद्ध राजनीति कर रहे हैं।

प्रसाद ने कहा कि भट्टा पारसौल में 11 मई की रात करीब 11 बजे इलाकाई पुलिस गांधी को गिरफ्तार करने के बाद अज्ञात स्थान पर ले जाने के प्रयास में थी। गनीमत यह रही कि क्षेत्रीय किसान गांधी के साथ थे और पुलिस की मंशा पूरी नहीं हो सकी। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस सरकार के इशारे पर काम कर रही थी। इससे कांग्रेस को आशंका है कि प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती गांधी के बढ़ते जनाधार से बौखलाकर कोई भी घटना करा सकती हैं।

उन्होंने कहा कि हिटलर के रूप में सरकार चलाने का प्रयास करने का परिणाम बसपा के लिए घातक होगा। निहत्थे किसानों पर गोलियां चलवाना और कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव के साथ अपमानजनक व्यवहार बसपा का असली चरित्र पता लगता है। प्रसाद ने कहा कि सरकार के आतंक से खौफजदा होकर नोएडा के करीब चार सौ से ज्यादा किसान अपने घरों से पलायन कर चुके हैं।

बसपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। भट्टा पारसौल मामले पर गैरकांग्रेसी दल अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रहे हैं, जबकि कांग्रेस किसानों का दर्द बांट रही है।बसपा सरकार को पूंजीपतियों की सरकार बताते हुए प्रसाद ने आरोप लगाया कि स्थानीय प्रशासन ने जेल में बंद कांग्रेसियों का उत्पीड़न किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मायावती से राहुल को जान का खतरा: जितिन