DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंतिम वीडियो में लादेन का टारगेट पश्चिम एशिया

अंतिम वीडियो में लादेन का टारगेट पश्चिम एशिया

अमेरिकी खुफिया अधिकारियों का कहना है कि अल कायदा सरगना ओसामा बिन लादेन के एक अप्रसारित वीडियो में वह पश्चिम एशिया के हालिया विद्रोह के बारे में बात कर रहा है, लेकिन उसने लीबिया, यमन या सीरिया में चल रहे संघर्ष का कोई जिक्र नहीं किया।

सीआईए की अगुवाई वाली इंटर एजेंसी टास्क फोर्स के अधिकारियों का कहना है कि लगता है ऐबटाबाद के गुप्त ठिकाने में दो मई को अमेरिकी नेवी सील के हाथों मारे जाने से कुछ दिन पहले ही इस वीडियो को रिकॉर्ड किया गया था।

वीडियो की जांच से जुड़े अधिकारियों ने कहा कि इसमें लादेन मिस्र और ट्यूनीशिया सहित पश्चिम एशिया के हालिया संघर्ष के बारे में बात कर रहा है, लेकिन उसने लीबिया, यमन और सीरिया का कोई जिक्र नहीं किया।

यह वीडियो नेवी सील द्वारा लादेन के ठिकाने से बड़े पैमाने पर बरामद की गई इलेक्ट्रॉनिक और अन्य सामग्री का हिस्सा है। बहरहाल अधिकारियों ने वीडियो में लीबिया और यमन का जिक्र नहीं किए जाने पर आश्चर्य व्यक्त किया है।

वीडियों का विश्लेषण करने वाले अधिकारियों के मुताबिक, इससे लगता है कि बिन लादेन साबित करने की कोशिश कर रहा था कि इन ऐतिहासिक विद्रोहों के दौर में अल कायदा अब भी प्रासंगिक है। वह इन ऐतिहासिक घटनाओं में अपनी दिलचस्पी जाहिर करने की कोशिश कर रहा था।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक विश्लेषकों का कहना है कि यह सोचने वाली बात है कि लादेन ने लीबियाई नेता मुअम्मर गद्दाफी के खिलाफ विद्रोह के प्रति अपना समर्थन जाहिर क्यों नहीं किया। लादेन गद्दाफी से नफरत करता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अंतिम वीडियो में लादेन का टारगेट पश्चिम एशिया