DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोच्चि को हराकर पंजाब की उम्मीदें बरकरार

कोच्चि को हराकर पंजाब की उम्मीदें बरकरार

दिनेश कार्तिक के 33 गेंद में 69 रन की बदौलत किंग्स इलेवन पंजाब ने शुक्रवार आईपीएल के अहम मुकाबले में कोच्चि टस्कर्स केरल को छह विकेट से हराकर प्लेआफ में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार रखी है।
    
कप्तान महेला जयवर्धने के 76 रन के दम पर कोच्चि टस्कर्स केरल ने सात विकेट पर 178 रन बनाए। जवाब में पंजाब की शुरूआत खराब रही और पांचवें ओवर में उसके दो विकेट 31 रन पर उखड़ गए लेकिन कार्तिक और शान मार्श (42) ने तीसरे विकेट के लिए 111 रन जोड़कर टीम को संकट से निकाला। प्रीति जिंटा की टीम ने जीत का लक्ष्य सात गेंद शेष रहते हासिल कर लिया।

कार्तिक ने 33 गेंद में सात चौकों और पांच छक्कों की मदद से 69 रन बनाए। मार्श ने उनका बखूबी साथ देते हुए 30 गेंद में 42 रन बनाए जिसमें पांच चौके और दो छक्के शामिल थे। इस जीत के साथ पंजाब 11 मैचों में 10 अंक लेकर तालिका में छठे स्थान पर पहुंच गया है जबकि कोच्चि 12 मैचों में 10 अंक के साथ सातवें स्थान पर है।
     
कोच्चि के घरेलू मैदान होल्कर स्टेडियम पर आईपीएल का यह पहला मैच था। कोच्चि ने पहले बल्लेबाजी के लिये भेजे जाने पर शानदार शुरूआत की। ब्रेंडन मैकुलम (32) के साथ पारी की शुरूआत करने वाले जयवर्धने ने 52 गेंद का सामना करके आठ चौके और दो छक्के लगाए। जयवर्धने और मैकुलम ने सिर्फ 8.4 ओवर में 93 रन जोड़ लिए।

दस ओवर में कोच्चि का स्कोर एक विकेट पर 103 रन था और लग रहा था कि वे 200 का आंकड़ा पार कर जाएंगे। अगले दस ओवर में हालांकि विकेट नियमित अंतराल में गिरते रहे। जयवर्धने पारी की आखिरी गेंद पर रन आउट हो गए। कोच्चि ने आखिरी दस ओवर में 75 रन बनाए और छह विकेट गंवा दिए।
    
पंजाब के लिए बायें हाथ के स्पिनर बिपुल शर्मा ने 32 रन देकर दो विकेट लिए। जयवर्धने और मैकुलम ने पंजाब के गेंदबाजों को कड़ी नसीहत देते हुए मैदान के चारों ओर शाट खेले। दोनों ने 5.2 ओवर में 50 रन पूरे कर लिए। पहले छह ओवर के बाद स्कोर बिना किसी नुकसान के 62 रन था।
   
बिपुल शर्मा ने नौवें ओवर में मैकुलम को आउट करके पंजाब को पहली सफलता दिलाई। मैकुलम स्वीप शाट खेलने के प्रयास में पगबाधा आउट हो गए। उन्होंने अपनी 27 गेंद की पारी में दो चौके और दो छक्के लगाए। मैकुलम के आउट होने के बाद आए रविंदर जडेजा (17) ने चावला को दूसरी गेंद पर छक्का लगाया। उन्हें पाल वल्थाटी ने तीसरी गेंद पर स्लिप में जीवनदान दिया।

इस बीच जयवर्धने ने 12वें ओवर में चावला को छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया। आईपीएल के चौथे सत्र के 12 मैचों में उनका यह तीसरा अर्धशतक है। उन्होंने इसके लिये 30 गेंदों का सामना किया जिसमें छह चौके और तीन छक्के लगाए।

जडेजा को 14वें ओवर में चावला ने पगबाधा आउट किया। वहीं ब्रैड हाज (चार) दो ओवर बाद पवेलियन लौट गए। ओवैस शाह के 12 गेंद में 23 रन के बावजूद कोच्चि अपने उच्चतम स्कोर 184 रन को पार नहीं कर सकी। शाह 19वें ओवर में रन आउट हुए। वेस्टइंडीज दौरे के लिए शुक्रवार को भारतीय टीम में शामिल किए गए पार्थिव पटेल पहली ही गेंद पर आउट हो गए। शलभ श्रीवास्तव की गेंद पर उन्होंने दिनेश कार्तिक को कैच थमाया।

जवाब में पिछले मैच में मुंबई पर सनसनीखेज जीत दर्ज करने वाली पंजाब की शुरूआत अच्छी नहीं रही। रन मशीन पाल वल्थाटी (17) को तीसरे ही ओवर में आरपी सिंह ने बोल्ड कर दिया। पांचवें ओवर में कप्तान एड़ा गिलकिस्ट (नौ) उनका शिकार हुए।

इसके बाद हालांकि कार्तिक और मार्श ने कोच्चि के गेंदबाजों को करारा जवाब देते हुए पंजाब को मैच में बखूबी लौटाया। कार्तिक खासकर काफी आक्रामक नजर आए और उन्होंने किसी गेंदबाज को नहीं बख्शा।

आरपी ने 15वें ओवर में लौटकर इस साझेदारी को तोड़ा। कार्तिक एक्स्ट्रा कवर पर जयवर्धने को कैच देकर लौटे। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर आर पर ने मार्श का रिटर्न कैच लपका तो लगने लगा था कि कोच्चि मैच में लौट आया है।
     
डेविड हस्सी और मनदीप सिंह (15)  ने हालांकि ऐसा होने नहीं दिया। हस्सी ने 15 गेंद में 21 रन बनाए जिसमें दो चौके और श्रीसंत को 19वें ओवर की पांचवीं गेंद पर जड़ा विजयी छक्का शामिल था। कोच्चि के लिए आरपी ने चार ओवर में 25 रन देकर चार विकेट लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोच्चि को हराकर पंजाब की उम्मीदें बरकरार