DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रसाद के खिलाफ आरोपपत्र पेश

उत्तराखंड में राज्य निगरानी विभाग ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री के पूर्व सलाहकार तथा उत्तराखंड जल विद्युत निगम के चेयरमैन योगेन्द्र प्रसाद के खिलाफ जिला न्यायालय के समक्ष आरोपपत्र पेश किया।

निगरानी विभाग के पुलिस अधीक्षक बीके जुयाल ने शुक्रवार को यहां बताया कि प्रसाद के खिलाफ अपने अधिकार का गलत प्रयोग करते हुए एक निजी कंपनी कैविएट इंटरनेशनल को 204 करोड़ 67 लाख रुपये का कार्य देने का आरोप है।

उन्होंने बताया कि कुल 900 पृष्ठों के चाजर्शीट में संदीप अग्रवाल, श्रीधर दत्त त्रिपाठी तथा आरपी लाल को भी अभियुक्त बनाया गया है। जुयाल ने बताया कि प्रसाद और अग्रवाल वर्तमान में जेल में बंद हैं, जबकि त्रिपाठी फरार हैं। प्रसाद को गत दो मई को गिरफ्तार किया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रसाद के खिलाफ आरोपपत्र पेश