DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

द्रमुक के साथ गठबंधन जारी रहेगा : प्रणव

कांग्रेस ने तमिलनाडु में मिली पराजय से सबक लेते हुए अपनी गलतियां सुधारने की बात कही, लेकिन द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) के साथ केंद्र में अपना गठबंधन जारी रखने का संकेत दिया।
 
पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रणव मुखर्जी ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों के नतीजों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि तमिलनाडु में लोगों के फैसले को हम नतमस्तक होकर स्वीकार कर रहे हैं। हमने मतदाताओं की उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश की, लेकिन अब उनका जनादेश आने पर हम इसे स्वीकार करते हैं। हम इन नतीजों की समीक्षा करेंगे और अपनी गलतियों को सुधारने का प्रयास करेंगे ताकि हम भविष्य में लोगों का विश्वास जीत सकें।

द्रमुक के साथ गठबंधन पर पुनर्विचार किए जाने के सवाल पर उन्होंने साफ कहा कि हमने 2009 में लोकसभा का चुनाव द्रमुक के साथ गठबंधन करते हुए लड़ा था और वह लोकसभा अभी जारी है।

इस सवाल पर कि क्या इन नतीजों की रोशनी में केंद्र का संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अपने रास्ते में कुछ परिवर्तन करना चाहेगा वित्त मंत्री ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि रास्ता बदलने के लिए कोई राजनीतिक दल किसी चुनाव का इंतजार करता है।

कांग्रेस के शीर्ष नेता ने इस बात से असहमति जताई कि भ्रष्टाचार के मुद्दे का सारा असर सिर्फ तमिलनाडु पर ही हुआ क्योंकि भ्रष्टाचार के मामलों में राज्य के कई नेता फंसे हुए थे। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार किसी एक राज्य तक सीमित नहीं है। उन्होंने तमिलनाडु के नतीजों को 'परिवर्तन का वोट' करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:द्रमुक के साथ गठबंधन जारी रहेगा : प्रणव