DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अदालत ने कहा, क्या हर कोई मोबाइल का बिल जेब में लेकर चले

एक युवक को पुलिस ने रोककर उससे मोबाइल का बिल मांग लिया। बिल पास में न होने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और उसका मोबाइल भी जब्त कर लिया। लेकिन, इस कार्रवाई को अदालत ने गलत ठहराते हुए पुलिस को जबर्दस्त फटकार लगाई और कहा कि ‘क्या हर आदमी मोबाइल का बिल जेब में लेकर चलेगा’।
मगर मुश्किल यह है कि अदालत में इंसाफ होने तक एक बेकसूर युवक को 5 साल तक कानूनी प्रक्रिया का सामना करना पड़ा है। अदालत ने युवक को दिल्ली पुलिस एक्ट की घारा 103(चोरी का सामान बरामद होना) के आरोप से बरी करते हुए कहा है कि पुलिस ने बिना पुख्ता कारण उसे आरोपी बना दिया।

अदालत ने पुलिस पर कटाक्ष करते हुए कहा है इस समय मोबाइल हर व्यक्ति की पहली जरूरत है। ऐसे में  मोबाइल का इस्तेमाल करने वाला हर व्यक्ति अपनी पॉकेट में ड्राइविंग लाइसेंस की तरह मोबाइल खरीद का बिल लेकर चलेगा अंसभव है।
(दिल्ली संस्करण)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अदालत ने कहा, क्या मोबाइल बिल जेब में लेकर चलें