DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंचायत चुनाव के आठवें चरण में गुरुवार को कोसी और पूर्व बिहार में छिटपुट घटनाओं के बीच करीब 67 फीसदी मतदान की खबर है। मुंगेर जिले के टेटिया बम्बर प्रखंड की नक्सल प्रभावित नोनाजी पंचायत के मध्य विद्यालय भंडार के बूथ पर फर्जी वोटरों को लेकर दो प्रत्याशी समर्थकों के बीच विवाद के बाद एसडीओ एवं डीएसपी के आदेश पर पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए लाठियां चटकाईं।

इससे क्षुब्ध ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव किया। खगड़िया जिले के परबत्ता प्रखंड में डुमरिया खूर्द मिडिल स्कूल बूथ पर सैप जवानों द्वारा वोटरों पर लाठी चार्ज किये जाने से बूथ पर अफरा-तफरी मच गई। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम कर सदर डीएसपी का घेराव किया।

सहरसा के नवहट्टा प्रखंड की 14 पंचायत क्षेत्रों में 65 प्रतिशत तक मतदान की खबर है। बूथों पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध रहने के कारण मतदाताओं ने शांति से वोट डाले। गड़बड़ी की कोशिश के आरोप में 25 लोग हिरासत में लिये गये और एक दर्जन मोटरसाइकिल भी जब्त हुए।

सुपौल प्रखंड में 69 प्रतिशत मतदान होने की सूचना है। यहां कुल 846 पदों के लिए चुनाव मैदान में खड़े 2509 उम्मीदवारों का भविष्य मतपेटियों में बंद हो गया। जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि एहतियातन 57 लोगों को गिरफ्तार किया गया। जलालगढ़ में 75 और डगरूआ में 80 फीसदी मतदान पूर्णिया जिले के दो प्रखंडों जलालगढ़ व डगरूआ में मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हो गया।

जलालगढ़ में 75 और डगरूआ में 80 फीसदी मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया। डगरूआ प्रखंड के कोहिला पंचायत के महलबाड़ी स्थित पंचायत भवन स्थित मतदान केन्द्र संख्या 87 एवं 88 पर वोटर लिस्ट से नाम नदारद रहने पर मतदाताओं ने हंगामा खड़ा कर दिया।

इसी प्रखंड के अधकेली पंचायत के मध्य विद्यालय निखरैल में कतार लगाने को लेकर पुलिस के साथ ग्रामीणों की नोकझोंक हो गई। फारबिसगंज प्रखंड में करीब 71 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतदान के दौरान एहतियातन पुलिस ने करीब 75 लोगों को हिरासत में लिया।

उत्क्रमित मध्य विद्यालय मकतब रामपुर बूथ संख्या 95 पर पोलिंग पार्टी न. 03 के एक कर्मी को हिरासत में ले लिया गया। इस कर्मी पर मतदाताओं के नाखून पर स्याही नहीं लगाने का आरोप है। डीएम एम. सरवणन ने इसकी पुष्टि की। कटिहार जिले के फलका, समेली तथा मनसाही प्रखंडों में 72 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

जिला नियंत्रण कक्ष से मिली जानकारी के अनुसार, मतपत्र में मुद्रण दोष के कारण समेली प्रखंड की मुरादपुर पंचायत के मुखिया तथा चकला मौलानगर के वार्ड संख्या एक के वार्ड सदस्य का चुनाव रद्द कर दिया गया है। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जमुई जिले के अलीगंज प्रखंड की 13 पंचायतों व लखीसराय जिले के चानन प्रखंड की 10 पंचायतों में शांतिपूर्ण मतदान संपन्न हो गया।

अलीगंज में 54 प्रतिशत मतदान हुआ और चुनाव में गड़बड़ी करने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया। चानन में 58 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले। यहां चुनाव के दौरान पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया। खगड़िया जिले के परबत्ता प्रखंड की 16 पंचायतों में गुरुवार को 62 प्रतिशत वोट डाले गए।

जिला पंचायत राज अधिकारी सतीश चरण मिश्र ने बताया कि मतदान प्रक्रिया में बाधा डालने के आरोप में दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया। उधर, मिडिल स्कूल, डुमरिया खूर्द के मतदान केंद्र पर सैप के जवानों के द्वारा वोटरों पर लाठी चार्ज किये जाने से बूथ पर अफरा-तफरी मच गई।

सैप के जवानों की हरकत से गुस्साए ग्रामीणों ने सड़क जाम कर सदर डीएसपी मनोज तिवारी का घेराव किया। मुंगेर जिले के टेटिया बम्बर प्रखंड की सात पंचायतों में छिटपुट घटनाओं के बीच लगभग 65 फीसदी मतदान हुआ। नक्सल प्रभावित नोनाजी पंचायत के मध्य विद्यालय भंडार के बूथ संख्या 89, 91, 92 पर फर्जी वोटरों को लेकर दो प्रत्याशी समर्थकों के बीच विवाद हो गया।

एसडीओ सलीम अख्तर एवं डीएसपी के. चंद्रा के साथ पुलिस बल ने वहां पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित करने के लिए लाठियां चटकायी। इससे क्षुब्ध ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव किया। हालांकि पथराव में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। इसी पंचायत के उत्क्रमित मध्य विद्यालय ढाढा के बूथ संख्या 92, 93 के समीप दो बम धमाके हुए लेकिन किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोसी व पूर्व बिहार में 67 फीसदी मतदान