DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बस में जहरीला पदार्थ खिलाकर कर्मचारी नेता की हत्या

लखनऊ सम्मेलन से लौट रहे एक कर्मचारी नेता की गुरुवार को झकरकटी बस अड्डे पर अचानक हालत बिगड़ गई। मुंह से झाग निकलने पर उर्सला ले जा रहे थे कि रास्ते में उन्होंने दम तोड़ दिया। पर्स में रुपये और अन्य सामान सुरक्षित होने से परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है। उन्होंने अज्ञात लोगों के खिलाफ थाने में इसकी तहरीर भी दी । हालांकि पुलिस जहरखुरानी का मामला मान रही है।
 
फिरोजाबाद के टुण्डला (विंग) आइडेटी रोड निवासी चम्पत लाल चतुर्वेदी (52) नगर पालिका परिषद में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी और स्वायत्त शासन कर्मचारी महासंघ में संयुक्त मंत्री थे । कर्मचारी महासंघ के तीन दिवसीय सम्मेलन में भाग लेने वह लखनऊ गए थे। वहां से आज लखनऊ-आगरा डिपो की बस से लौट रहे थे कि झकरकटी बस अड्डे पर उनकी तबीयत खराब हो गई। मुंह से झाग और शरीर नीला पड़ता देख कन्डेक्टर राजू डिपो में सूचना दी। चम्पत लाल को उर्सला ले जा रहे थे कि उन्होंने दम तोड़ दिया। मौके पर पहुंची बाबूपुरवा पुलिस को चम्पत लाल के पास आईकार्ड, पर्स और झोला बरामद हुआ, जिसमें100 रुपए और तीन जोड़ी कपड़े मिले। चम्पत के छोटे भाई रतन चतुवेर्दी का कहना है कि 8 तारीख को वह महासंघ के अन्य पदाधिकारियों के साथ लखनऊ गए थे। बुधवार शाम को फोन पर बात भी हुई थी। पोस्टमार्टम हाउस पहुंची उनकी पत्नी कमलेश्वरी और बेटे टिंकू, तनू का कहना है कि उनके अकेले लौटने की बात गले नहीं उतर रही है। उनका सामान सलामत होने से मामला संदिग्ध लग रहा है।

बाबूपुरवा इंस्पेक्टर कृपा शंकर सरोज का कहना है कि बस के मुसाफिरों से पता चला कि चम्पत लाल की सीट पर दो और अन्य लोग और बैठे थे, जिनसे वह बातचीत कर रहे थे। हालत बिगड़ने पर दोनों गायब हो गए। जो सामान मिला है वह दूसरी सीट के नीचे रखा था, जिससे मामला जहरखुरानी गिरोह का लग रहा है। पोस्टमार्टम में जहर की पुष्टि हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बस में जहरीला पदार्थ खिलाकर कर्मचारी नेता की हत्या