DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस वसूली ने ले ली सिपाही की जान

संदिग्ध हालात में मंगलवार को देर रात तेज रफ्तार लोडर ने डय़ूटी पर तैनात सिपाही को रौंद दिया। गंभीर रूप से घायल सिपाही को प्राथमिक उपचार के बाद ट्रामा सेंटर ले जाया जा रहा था। रास्ते में उसकी मौत हो गई। सूत्रों की माने तो वसूली के चक्कर में सिपाही की जान गई। पुलिस का कहना है लोडर पर चोरी के पशु जा रहे थे। रोके जाने पर लोडर चालक ने भागने के प्रयास में सिपाही को रौंद डाला। शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के हवाले कर दिया गया। लोडर चालक की तलाश की जा रही है।

असोहा के गोरियन खेड़ा गांव में मंगलवार देर रात संदिग्ध हालात में कालू खेड़ा चौकी पर तैनात आलमबाग लखनऊ निवासी सिपाही राजेन्द्र पुत्र महावीर यादव को तेज रफ्तार लोडर ने कुचल दिया। गंभीर रूप से घायल सिपाही को साथी सिपाही राजेन्द्र प्रसाद पाण्डेय ने मरणासन्न हालत में स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती करवाया। हालत नाजुक देख प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर ने उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया।

ट्रामा सेंटर में जाँच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया। घटना के बाद लोडर मौरावां की तरफ भाग गया। पुलिस की माने तो ग्रामीणों ने पशु चोरी कर भाग रहे लोडर को देख घटना की जानकारी थाना पुलिस को दी। कालूखेड़ा चौकी इंचार्ज केएल पटेल ने कालू खेड़ा तिराहे पर डय़ूटी कर रहे राजेन्द्र प्रसाद व राजेन्द्र पाण्डेय को मौके पर भेजा था। सूत्रों की माने तो नाला खेड़ा चौराहे पर पुलिस अवैध रूप से जानवर ले जाने वाले वाहनों से वसूली करती है।

वसूली से बचकर लोडर चालक भाग रहा था। सिपाहियों ने सड़क पर टेंपो लगाकर लोडर को रोकने का प्रयास किया। तेज रफ्तार लोडर के चालक ने राजेन्द्र यादव को रौंदते हुए भाग निकला। पुलिस फरार लोडर चालक की तलाश कर रही है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस वसूली ने ले ली सिपाही की जान